12 हजार 500 से अधिक डाकमत पत्र जारी किये गये

जबलपुर। पहले हुए चुनावों के मुकाबले इस बार के विधानसभा निर्वाचन में चुनावी डॠूटी में संलग्न अधिकारियों-कर्मचारियों, सर्विस वोटर्स और बाहर रहकर शासकीय सेवा कर रहे जबलपुर जिले के मतदाताओं में डाकमत पत्र से मताधिकार का इस्तेमाल करने के प्रति ज्यादा रूझान देखने को मिला । इस बार इन श्रेणी के मतदाताओं को मतदान की सुविधा देने जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा 12 हजार 518 डाकमत पत्र जारी किये गये थे ।उप जिला निर्वाचन अधिकारी के मुताबिक इनमें सर्वाधिक संख्या जिल में चुनावी डयूटी में संलग्न अधिकारियों-कर्मचारियों तथा अधिग्रहित वाहनों के ड्रायवर-कंडक्टर्स की थी । चुनावी डयूटी में तैनात ऐसे 9 हजार 026 अधिकारियों-कर्मचारियों तथा अधिग्रहित वाहनों के ड्रायवर एवं क्लीनर्स को फेसिलिटेशन सेन्टर्स के माध्यम से डाकमत पत्र जारी किये गये और उन्हें विधानसभावार बनाये गये फेसिलिटेशन सेन्टर्स में ही डाकमत पत्र द्वारा मतदान की सुविधा दी गई । उप जिला निर्वाचन अधिकारी के अनुसार जिले में विधानसभा का चुनाव कराने वाले अधिकारियों-कर्मचारियों तथा ड्रायवर-कंडक्टर के अलावा 1 हजार 355 सर्विस वोटर्स को इलेक्ट्रॉनिकली ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम से डाकमत पत्र जारी किये गये हैं । इसके साथ ही निर्धारित प्रारूप में डाकमत पत्र के लिए आवेदन करने वाले ऐसे 2 हजार 137 मतदाताओं को भी डाक से मतपत्र भेजे गये हैं जो जिले से बाहर अपनी सेवायें दे रहे हैं ।
उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अरजरिया के मुताबिक फेसिलिटेशन सेन्टर पर डाकमत पत्र से वोट डालने की दी गई सुविधा का इस्तेमाल करते हुए विधानसभा क्षेत्र पाटन के 599, विधानसभा क्षेत्र बरगी के 614, विधानसभा क्षेत्र जबलपुर पूर्व में 1 हजार 164, विधानसभा क्षेत्र जबलपुर उत्तर के 1 हजार 457, विधानसभा क्षेत्र जबलपुर केंट के 1 हजार 535, विधानसभा क्षेत्र जबलपुर पश्चिम के 1 हजार 928, विधानसभा क्षेत्र पनागर के 895 तथा विधानसभा क्षेत्र सिहोरा के 834 अधिकारियों-कर्मचारियों एवं ड्रायवर-कंडक्टर्स द्वारा वोट डाले गये हैं ।
उन्होंने बताया कि ऐसे मतदान कर्मी या चुनाव डयूूटी में संलग्न अधिकारी-कर्मचारी जो अभी तक डाकमत पत्र से अपना वोट नहीं डाल सके हैं वे मतगणना प्रारंभ होने के पहले 11 दिसंबर की सुबह 8 बजे तक अपना वोट डाल सकेंगे । इसके लिए जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा विशेष व्यवस्था की गई है । ऐसे चुनाव कर्मियों के लिए जो अभी तक डाकमत पत्र से वोट नहीं डाल पाये हैं उनके लिए कलेक्ट्रेट स्थित जिला कोषालय में विधानसभावार मतपेटियां रखी गई हैं । चुनाव डॠूटी में संलग्न कर्मी अथवा सर्विस वोटर्स डाकघर के माध्यम से भी अपने डाकमत पत्र जिला निर्वाचन कार्यालय को भेज सकते हैं । लेकिन डाकघर के माध्यम से ये मतपत्र मतगणना प्रारंभ होने के पूर्व हर हालत में जिला निर्वाचन कार्यालय को मिल जाने चाहिए ।