अब चलती ट्रेन में टीटीई कर सकेंगे वेटिंग टिकट कन्फर्म

राजधानी व दुरंतो उसके बाद अन्य ट्रेनों में लागू होगी यह व्यवस्था
जबलपुर नगर संवाददाता। रेलवे बोर्ड ने निर्णय लिया है कि वह अपने टिकट चैकिंग स्टाफ को हैंड हेल्ड टर्मिनल एचएचटी से सुसस्जित करेगा इस एचएचटी के जरिये उसे ट्रेन में सीट की ताजातरीन स्थिति की जानकारी मिलती रहेगी जिसके जरिये वह वेटिंग टिकट को कन्फर्म भी कर सकेगा। आईआरसीटीसी लगातार अपने यात्रियों को सहूलियत देने के लिए नए-नए प्रयोग कर रही है एक नए प्रयोग के तहत आईआरसीटीसी अब चलते ट्रेन में भी वेटिंग टिकट कन्फर्म कर सकता है इसके लिए ट्रेन में चल रहे टीटीई को हैंड हेल्ड टर्मिनल दिए जाएंगे इसके तहत उस ट्रेन की सीटिंग व्यवस्था का अपडेट टीटीई को मिलता रहेगा अगर कोई यात्री चार्ट बनने के बाद अपना टिकट कैंसल करता है या उसकी ट्रेन छूट जाती है तो हैंड हेल्ड टर्मिनल मशीन में ये चीजें अपडेट हो जाएंगी और टीटीई प्राथमिकता के आधार पर उस खाली सीट को वेटिंग के यात्रियों को दे सकते हैं।
2019 से लागू होगी नई व्यवस्था
यह नई व्यवस्था नए साल यानी जनवरी 2019 से लागू होगी शुरुआत में यह व्यवस्था कुछ राजधानी और दुूरंतो ट्रेनों में होगी जिसे धीरे.धीरे अन्य ट्रेनों में बढ़ाया जाएगा टीटीई को मिलने वाला यह हैंड हेल्ड टर्मिनल सीधे रेलवे के सर्वर से जुड़ा होगा जिससे हर पल की स्थिति का अपडेट मिलता रहेगाण् प्रयोग के तौर पर कुछ शताब्दी व राजधानी ट्रेनों में इसका इस्तेमाल किया पहले से ही किया जा रहा हैण् जनवरी महीने में कुछ अन्य ट्रेनों में भी इसे शुरू किया जाएगाण् हैंड हेल्ड टर्मिनल टीटीई को दो चरणों में बांटे जाएंगे पहले चरण में 500 और दूसरे चरण में 8000 टीटीई को ये टर्मिनल दिए जांएगे राजधानी दूरंतो और शताब्दी के बाद सुपरफास्ट और एक्सप्रेस ट्रेनों में भी यह सुविधा दी जाएगी हैंड हेल्ड टर्मिनल में टिकटों की जांच में भी तेजी आएगी इसके अलावा कैंसल टिकटों के रिफंड में भी तेजी आएगी।