आदर्श मतदान केन्द्र देखकर प्रसन्न हुए मतदाता

निर्वाचन आयोग ने पहली बार आदर्श पोलिंग बूथ बनाए थे। इन बूथों को देखकर कोई नहीं कह सकता था कि यहां पर मतदान होना है। मतदान केन्द्र को बिल्कुल बारात घर की तरह सजाया गया था। शहर में बनाए गए आदर्श पोलिंग बूथों को निर्वाचन आयोग ने आदर्श तरीके से सजाया था। मतदाताओं को वोटिंग के दौरान किसी प्रकार की परेशानी नहीं आए इसके लिए आदर्श पोलिंग बूथ में आकर्षक सजावट के साथ ही मतदाताओं के आराम का भी ख्याल रखा गया था। मतदाताओं को लाइन के कारण खड़े होने की परेशानी नहीं हो इसके लिए कुर्सियां रखी गई थीं। जहां पर बैठकर मतदाता अपनी बारी का इंतजार कर सकता था। वहीं बच्चों के खेलने के लिए भी वहां पर व्यवस्था की गई थी। जिसके कारण बच्चों को लेकर आने वाले अभिभावकों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़ा।
आकर्षक सजावट
मतदान केन्द्र को सजाने के लिए उनके द्वार को आकर्षक गुब्बरों से सजाया गया था। साथ ही मतदान कक्ष के बाहर भी गुब्बारे लगाए गए थे। इसके कारण मतदान केन्द्र आकर्षक लग रहे थे। साथ ही मतदान केन्द्र के चारों ओर टेंट लगाकर भी सजाया गया था।