Advertisements

बुजुर्गों को गिरने से पहले अलर्ट कर देगा सैंसर बैंड

गैजेट डैस्क : बुजुर्गों की सेहत का ख्याल सबसे अधिक रखना पड़ता है क्योंकि चलते समय अगर उनका पैर स्लिप हो जाए या असंतुलित होकर वे गिर पड़ें तो इससे उन पर शारीरिक व मानसिक रूप से काफी प्रभाव पड़ सकता है। बुजुर्गों के जोखिम को कम करने के लिए जर्मनी के कालर्सरूहे इंस्टीच्यूट ऑफ टैक्नोलॉजी (के.आई. टी.) के वैज्ञानिकों ने ऐसा रिस्ट वॉर्न सैंसर बैंड डिवैल्प किया है जो बुजुर्गों के चलने के तरीके से ही यह पूर्व अनुमान लगा लेगा कि वे गिरने वाले हैं या नहीं और ऐसे में स्मार्टफोन पर अलर्ट दे देगा। इससे घरवालों को घर के बड़े बुजुर्गों की सेहत की स्थिति को समझने में मदद मिलेगी व वे उसी हिसाब से दवा आदि को भी मुहैया करवा सकेंगे।
डिवाइस में लगे मोशन सैंसर
इस डिवाइस के प्रोटोटाइप में मोशन सैंसर्स को लगाया गया है जो बुजुर्ग व्यक्ति के चलने पर पता लगाता है कि चलते समय वह हिल तो नहीं रहा या शरीर में किसी प्रकार की कम्पन तो नहीं है। वहीं रुकने पर पता लगाता है कि हाथ-पैर समन्वय रूप से सही पोजीशन में हैं या नहीं। इसके अलावा लोकेशन की भी जानकारी यह सैंसर जुटाता है।
कुछ समय में होगी उपलब्धता
फिलहाल इस सिस्टम पर क्लीनिकल ट्रायल किया गया है जोकि सफल रहा है। इस दौरान स्टटगार्ट के रॉबर्ट बॉश अस्पताल के रोगियों को शामिल किया गया है। सफल परीक्षण के बाद माना जा रहा है कि KIT और बॉश हैल्थकेयर सॉल्यूशन्स साथ मिल कर इसे डिवैल्प करेंगी और कुछ समय बाद इसे उपलब्ध किया जाएगा।
स्मार्टफोन एप्प पर मिलती है पूरी जानकारी
इस सैंसर के लिए खास तरह की स्मार्टफोन एप्प को तैयार किया गया है जो सैंसर के साथ कनैक्ट होकर सारी जानकारी देती है। इससे यूजर को पता चल जाता है कि गिरने का रिस्क है या नहीं। वहीं इसके अलावा एप्प पर आपको यह भी जानकारी मिलेगी कि उन्हें ट्रेनिंग की जरूरत है या नहीं या फिर दवाई को अब बदलने का समय आ गया है। इन सुझावों से बुजुर्गों के जोखिम को कम किया जा सकता है।

Loading...