Advertisements

दीपावली: आज है रुप चौदस जानिये शुभ मुहूर्त और खास बातें

धर्म डेस्क। दीपोत्सव के दूसरे दिन मंगलवार को रूप चतुर्दशी मनाई जाएगी। रूप लावण्य के लिए तेल-तिल से स्नान कर भगवान कृष्ण का पूजन किया जाएगा।

अकाल मृत्यु के भय से मुक्ति के लिए यम देवता का पूजन कर दीपदान किया जाएगा। इस दिन चतुर्दशी तिथि रात 10.26 तक रहेगी। साथ ही चित्रा नक्षत्र रात 8.34 और प्रीति योग रात 7.55 बजे तक रहेगा। रात 7.55 बाद आयुष्मान योग लगेगा।

भगवान कृष्ण और यम पूजन के लिए मुहूर्त

  • चर : सुबह 9.21 से 10.46 बजे तक।

  • लाभ : सुबह 10.47 से 12.10 बजे तक।

  • अमृत : 12.10 से 1.34 बजे तक।

  • लाभ : 7.22 से 8.58 बजे तक।

लग्न के अनुसार

वृश्चिक लग्न : सुबह 7.25 से 9.40 बजे तक।

वृषभ लग्न : शाम 6.17 से रात 8.16 बजे तक।

कुछ खास बातें

नरक चौदस, रूप चौदस के नामों से जाना जाता है. इस दिन कार्तिक कृष्ण चतुर्दशी पर मृत्यु के देवता यमराज की पूजा का विधान है. इस साल 2018 को रूप चतुर्दशी 6 नवम्बर के दिन मनाई जाएगी. इसे छोटी दीपावली के रूप में भी मनाया जाता है इस दिन संध्या के बाद दीपक जलाए जाते हैं और चारों ओर रोशनी की जाती है.

नरक चतुर्दशी का पूजन अकाल मृत्यु से मुक्ति और स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए किया जाता है. एक पौराणिक मान्यता के अनुसार भगवान श्रीकृष्ण ने कार्तिक माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी के दिन नरकासुर का वध करके, देवताओं और ऋषियों को उसके आतंक से मुक्ति दिलवाई थी.

Loading...