केंद्रीय चुनाव समिति आज करेगी मप्र के कांग्रेस के 100 प्रत्याशियों का फैसला

Advertisements

भोपाल। दिल्ली में चल रही कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की मैराथन बैठकों में उम्मीदवारों के नामों पर देर शाम तक चर्चा चलती रही। अब शुक्रवार को होने वाली केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में करीब 100 नामों पर अंतिम फैसला लिया जाएगा।

समिति इसके पहले 71 प्रत्याशियों की सूची को हरी झंडी दे चुकी है। इस बात की संभावना है कि 29-30 को राहुल गांधी के मप्र दौरे के बाद कांग्रेस अपने 130 से 140 प्रत्याशियों की पहली सूची जारी कर सकती है। जिन सीटों पर खींचतान ज्यादा है उन्हें सबसे बाद में घोषित किया जाएगा।

कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में गुरुवार को भोपाल सहित कुछ अन्य बड़े शहरों की सीटों पर चर्चा हुई। बताया जाता है कि शुक्रवार को होने वाली दूसरे दौर की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में करीब 100 सीटों का फैसला किया जाएगा। इसके पहले समिति 71 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम तय कर चुकी है।

इसे भी पढ़ें-  High court हाईकाेर्ट में ई-सेवा शुरू, जानें क्या सुविधा मिलेगी

पार्टी सूत्रों का दावा है कि राहुल गांधी के 29-30 अक्टूबर को मप्र दौरे के बाद कांग्रेस अपने 130 से 140 प्रत्याशियों की सूची जारी कर सकती है। ये वह सीटें हैं, जिन पर सहमति बन चुकी है। इनमें ज्यादातर मौजूदा विधायक और पिछले चुनाव में कम मार्जिन से हारी हुई सीटों के नाम भी शरीक हैं। जिन सीटों को लेकर खींचतान की स्थिति ज्यादा है, उनके बारे में अंतिम समय में ही निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए सभी नेताओं के बीच सहमति बनाने के प्रयास भी चल रहे हैं।

भोपाल की चार सीटों पर दावेदारों के नाम शार्टलिस्ट कर जो पैनल तैयार किए गए हैं, उन पर भी गुरुवार को विचार मंथन चलता रहा। केंद्रीय समिति इनमें से एक नाम तय करेगी, यह भी रणनीति बनाई गई है कि कुछ सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों की सूची देखकर कांग्रेस अपने पत्ते खोलेगी।

इसे भी पढ़ें-  Corona Booster Dose: 40 साल से ज्यादा उम्र वालों के लिए बूस्टर डोज जरूरी, INSACOG के वैज्ञानिकों ने की सिफारिश

भोपाल मध्य क्षेत्र से साजिद अली, नासिर इस्लाम और शबिस्ता आसिफ जकी के नाम का पैनल बना है। दक्षिण-पश्चिम में पीसी शर्मा, प्रवीण सक्सेना और संतोष कंसाना के नाम हैं। हुजूर सीट का मामला भी अटका है, यहां जिन दावेदारों के नाम शार्टलिस्ट हुए हैं उनमें महेंद्र सिंह चौहान और मनोज शुक्ला प्रमुख हैं।

बताया जाता है कि कैलाश मिश्रा ने मनोज के पक्ष में अपनी दावेदारी वापस ले ली है। मखमल मीणा और नरेश ज्ञानचंदानी के अलावा विधानसभा के एक पूर्व अधिकारी का नाम भी चर्चा में है। कांग्रेस की रणनीति यह भी है कि यदि भाजपा ने यहां रामेश्वर शर्मा को रिपीट किया तो नया और चौंकाने वाला नाम आएगा। उधर बैरसिया सीट पर लंबी कवायद के बाद जयश्री और राम मेहर सहित एक अन्य दावेदार का पैनल बना है।

Advertisements