महिला अध्यापकों को भी चाइल्ड केयर लीव का फायदा

Advertisements

जबलपुर। अब प्रदेश में महिला अध्यापकों को भी चाइल्ड केयर लीव का फायदा मिलेगा। हाई कोर्ट ने यह आदेश राज्य सरकार के 6 अगस्त 2016 को जारी परिपत्र को निरस्त करते हुए यह सुनाया।

सरकार ने इस परिपत्र के जरिए महिला अध्यापकों को चाइल्ड केयर लीव देने पर रोक लगा दी थी। अब तक प्रदेश में महिला अध्यापकों को छोड़कर अन्य शासकीय महिला कर्मियों को चाइल्ड केयर लीव मिलती थी।

संकुल प्राचार्य ने आवेदन कर दिया था खारिज

जबलपुर के कटंगी में पूजा जैन कई वर्षों से अध्यापक के पद पर कार्यरत हैं। संतान प्राप्ति के बाद उन्होंने चाइल्ड केयर लीव के लिए आवेदन दिया था। संकुल प्राचार्य ने वह आवेदन खारिज कर दिया। इसके बाद उन्होंने अधिवक्ता सत्येंद्र ज्योतिषी व विकास मिश्रा के जरिये हाई कोर्ट में याचिका लगाई थी।

अधिवक्ताओं ने गुरुवार को न्यायमूर्ति सुबोध अभ्यंकर की एकलपीठ में सुनवाई के दौरान कहा कि जब अन्य शासकीय सेवक महिलाओं को चाइल्ड केयर लीव का विधिवत लाभ दिया जाता है, तो महिला अध्यापकों को क्यों नहीं? सुनवाई के बाद जस्टिस ने महिला अध्यापकों के चाइल्ड केयर लीव देने के आदेश दिए।

Advertisements