Advertisements

कहीं सर्वे तो कहीं टिकिट लिस्ट, MP में रोज हो रहे नए चुनावी धमाके, अब देखें संघ की सर्वे रिपोर्ट

भोपाल। कुछ रोज पूर्व कांग्रेस के पूरे 230 बिधान सभा क्षेत्र की प्रत्याशियों की सूची सोशल मीडिया में जारी हुई तो भाजपा की सूची भी झट से आ गई। एमपी में चुंनाव के पहले सोशल मीडिया पर रोज नए धमाके हो रहे हैं ।

ताजा खबर कतिथ तोर पर संघ मुख्यालय की है जहां से मप्र के लिए 2 पन्नों की एक सर्वे रिपोर्ट जारी होना बताया जा रहा है। हालांकि संघ ने ऐसी किसी सूची से इनकार किया है लेकिन जारी सूची में कई विधायको और मंत्रियों के परफॉमेंस को आंका गया है।

इस रिपोर्ट कार्ड में आरएसएस का गोपनीय सर्वे है, उसके आधार पर मुख्यमंत्री और मंत्रियों पर टिप्पणी की गई है। इस रिपोर्ट को स्थानीय पदाधिकारियो से मंगवाए गए गोपनीय सर्वे की रिपोर्ट बताया जा रहा है। हालांकि इसको भी फ़र्ज़ी बताया जा रहा है। वही भाजपा में इसको लेकर हड़कम्प मच गया है।

हैरानी की बात तो ये है कि इस गोपनीय रिपोर्ट को एक लेटर पैड के पन्ने पर इस तरह जारी किया गया है कि जैसे मानो संघ ने ही जारी की हो।  वायरल हो रही इस कथित रिपोर्ट में मुख्यमंत्री शिवराज से लेकर प्रदेश के मंत्रियों का लेखा-जोखा दिखाया गया है। विधानसभा चुनावों को देखकर तैयार की गई इस कथित रिपोर्ट में ज्यादातर मंत्रियों के काम-काज पर असंतोष जताया गया है।

दो पन्नों की इस सूची में मंत्रियों का ब्यौरा हिन्दी में दिया गया है। दोनों पन्नों पर नीचे की ओर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ दिल्ली ऑफिस जनरल सेक्रेटरी अंग्रेजी में लिखा गया है। जबकि, संघ इस तरह की भाषा कभी इस्तेमाल नहीं करता। इस सूची में किसी जिम्मेदार पदाधिकारी के हस्ताक्षर नहीं है। क्रमांक एक और दो हिन्दी में लिखा गया है। फिलहाल लिस्ट को लेकर सियासी माहौल गरमा गया है> ल

Loading...