आतंकी हमले की सूचना पर स्टेशन मेंं चप्पे .चप्पे पर नजर

जबलपुर नगर संवाददाता । आतंकी हमले की आशंका की सुरक्षा एजेंसियों से मिली सूचना के बाद जबलपुर एभोपाल कटनी सहित प्रदेश के स्टेशनों के चप्पेण्चप्पे पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। हमले की सूचना के बाद हाई एलर्ट घोषित कर स्टेशनों पर संदिग्धों की जांच व उन्हें पकडऩ़े का सिलसिला भी शुरू हो गया है। मुख्य रेलवे स्टेशन के सभी प्लेटफार्मो में डाग स्क्वाड के साथ आरपीएफ व जीआरपी द्वारा सघन चेकिंग के साथ संदिग्धों पर पेनी नजर रखी जा रही है स्टेशन में यात्रियों की सुरक्षा के लिये तगड़े इंतजाम किये जाने के साथ साथ ट्रेनों में भी सुरक्षा व्यवस्था बड़ा दी गई है। स्टेशनों पर आरपीएफ व जीआरपी जवानों की तैनाती कर दी गई है जो हर आनेण्जाने वालों संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।जबलपुर जोन में आरपीएफ के प्रमुख मुख्य सुरक्षा आयुक्त आरके मलिक ने अफसरों को चाकण्चौबंद इंतजाम के निर्देश जारी किए हैं। 20 अक्टूबर को प्रदेश के चार स्टेशनों को उड़ाने की धमकी आतंकी संगठन लश्करे तैयबा द्वारा दी गई है। आतंकी हमले की आशंका वाले सुरक्षा एजेंसियों के मैसेज के बाद जबलपुर स्टेशन का सुरक्षा घेरा भी बढ़ा दिया गया है।आरपीएफ के सीनियर कमाण्डेंट अनिल भालेराव ने बताया कि सुरक्षा एजेंसियों की सूचना के बाद 18 अक्टूबर से स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था को तगड़ी कर दिया गया है। आरपीएफ जबलपुर पोस्ट प्रभारी वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि स्टेशन के चप्पेण्चप्पे पर सुरक्षा व्यवस्था मजबूत कर दी गई है। स्टेशन परिसर प्लेटफार्मों वेटिंग रूम रिटायरिंग रूम पार्सल कार्यालय में बम व डॉग से सर्चिंग कराई जा रही है। इंस्पेक्टर सिंह ने बताया कि जबलपुर स्टेशन पर जो भी संदिग्ध नजर आ रहा है उसे पकड़कर पूछताछ की जा रही है। आरपीएफण्जीआरपी ने 20 अक्टूबर को स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था को और तगड़ी करने की तैयारी की है ताकि परिंदा भी पर ना मार सके। ट्रेनों में भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई।