Advertisements

MP में शनिवार से सोयाबीन और मक्का खरीदी पर मिलेगा भावांतर

भोपाल। प्रदेश में शनिवार से सोयाबीन, मक्का, उड़द, मूंग, मूंगफली, तिल और रामतिल की न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी होगी। इसमें सोयाबीन और मक्का पर सरकार फ्लेट भावांतर देगी यानी फसल का किसान को जो भाव मंडी में मिलेगा उसके ऊपर पांच सौ रुपए प्रति क्विंटल दिए जाएंगे।

हालांकि, इस बार विधानसभा चुनाव की आदर्श आचार संहिता प्रभावी होने के मद्देनजर खरीदी केंद्रों में न तो सरकार का कोई पोस्टर होगा और न ही बैनर-होर्डिंग्स।

कृषि विभाग के मुताबिक सोयाबीन और मक्का न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए 17 लाख 75 हजार से ज्यादा किसानों ने पंजीयन कराया है। इनसे 20 अक्टूबर से 19 जनवरी तक लगभग 47 लाख मीट्रिक टन उपज की ब्रिकी हो सकती है।

खरीदी सरकार नहीं करेगी बल्कि मंडियों में जाकर व्यापारियों को किसान उपज बेचेंगे। मंडियों में सभी किसानों का पूरा रिकॉर्ड रखा जाएगा। चुनाव आचार संहिता समाप्त होने के बाद योजना के तहत फ्लेट भावांतर का भुगतान सीधे किसान के खाते में होगा।

सरकार पांच सौ रुपए तक भावांतर देने की घोषणा आचार संहिता लागू होने के पहले ही कर चुकी है। वहीं, केंद्र सरकार की प्राइस सपोर्ट स्कीम के तहत प्रदेश में मूंग, उड़द, मूंगफली, तिल और रामतिल की खरीदी राज्य सहकारी विपणन संघ और राज्य नागरिक आपूर्ति निगम करेगा।

किस फसल का क्या है समर्थन मूल्य

फसल– न्यूनतम समर्थन मूल्य (प्रति क्विंटल)

उड़द–5,600

मूंग–6,975

मूंगफली–4,890

तिल–5,675

रामतिल–5,877

सोयाबीन–3,399

मक्का–1,700

Loading...
Hide Related Posts