फेसबुक पर गुड मॉर्निंग लिखना पड़ा भारी, खानी पड़ी जेल की हवा

Advertisements

यरूशलम। सोशल मीडिया साइट्स में मौजूद आधुनिक तकनीकें कई बार सुविधा की बजाय असुविधा पैदा कर देती हैं। ऐसा ही कुछ हुआ फिलीस्तीन के रहने वाले एक शख्स के साथ।

उसने फेसबुक पर अरबी भाषा में एक पोस्ट क्या किया, उसे जेल की हवा खानी पड़ी। दरअसल इस शख्स ने एक निर्माणाधीन स्थान पर खड़े बुलडोजर के साथ अपनी एक तस्वीर खींची और उसे फेसबुक पर पोस्ट कर दिया।

तस्वीर के साथ उसने अरबी में गुड मॉर्निंग लिखा। फेसबुक ने हिब्रू भाषा में उसका अनुवाद किया ‘उन पर हमला करो’ और अंग्रेजी में अनुवाद किया ‘उन्हें नुकसान पहुंचाओ।’

बस फिर क्या था, इस पोस्ट का नोटिफिकेशन जैसे ही इजरायली पुलिस ने देखा, वे उस शख्स को गिरफ्तार कर ले गए। आखिर जब उस शख्स ने पुलिस को पूरा मामला समझाया, तब जाकर उसे रिहा किया गया।

स्थानीय अखबार हार्ट्ज की रिपोर्ट के अनुसार, यह घटनाक्रम पिछले हफ्ते का है। मामला इसलिए भी संदिग्ध माना गया क्योंकि जिस कंस्ट्रक्शन साइट पर खड़े होकर शख्स ने यह मैसेज किया, वह वेस्ट बैंक की हैं।

पुलिस का कहना है कि उन्होंने तत्काल कदम उठाया, क्योंकि उन्हें आशंका है कि आतंकी हमले में बुलडोजर का इस्तेमाल किया जा सकता है।

फेसबुक ने मांगी माफी –

घटनाक्रम सामने आने के बाद फेसबुक ने माफी मांगी है। कंपनी का कहना है कि वह ऑटो-ट्रांसलेट एल्गोरिदम में लगातार सुधार कर रहे हैं और इस तरह की गलतियों को दोहराया नहीं जाएगा।

Advertisements