Advertisements

बांग्लादेश के खिलाफ जीत की लय बरकरार रखने उतरेगी भारतीय टीम

दुबईः  पाकिस्तान को रौंदने के बाद भारत आज सुपर चार के अपने पहले मैच में बांग्लादेश से भिड़ेगा। भारत के लिए सबसे बड़ी चिंता टीम के संयोजन की होगी, क्योंकि हार्दिक पांड्या कमर की चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं, जबकि हांगकांग और पाकिस्तान के खिलाफ लगातार दो दिन खेलने के बाद भुवनेश्वर कुमार को आराम दिया जा सकता है। बाएं हाथ के स्पिनर खलील अहमद को भुवनेश्वर के स्थान पर अंतिम एकादश में मौका दिया जा सकता है, लेकिन अभी यह स्पष्ट नहीं है कि पांड्या का विकल्प कौन होगा। संभावित विकल्प के तौर पर दीपक चाहर टीम से जुड़ रहे हैं, लेकिन इसकी संभावना नहीं है कि उन्हें सीधे अंतिम एकादश में जगह मिल जाएगी।

मनीष पांडे बल्लेबाजी में गहराई पैदा कर सकते हैं और मध्यक्रम में उन्हें मौका दिए जाने की संभावना है। केदार जाधव की आफ स्पिन प्रभावी है और वह पांड्या के हिस्से के ओवर कर सकते हैं। सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शिखर धवन पहले दो मैचों में रन बनाने में सफल रहे, जबकि अंबाती रायुडू और दिनेश कार्तिक ने पाकिस्तान के खिलाफ ठोस बल्लेबाजी की। महेंद्र सिंह धोनी का बल्लेबाजी फॉर्म टीम प्रबंधन के लिए चिंता का विषय हो सकता है और यह देखना रोचक होगा कि कप्तान रोहित उन्हें ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी के लिए बुलाकर क्रीज पर अधिक समय बिताने का समय देते हैं या नहीं। भारत और पाकिस्तान के बीच प्रतिद्वंद्विता ऐतिहासिक है, जबकि मेलबर्न में 2015 विश्व कप क्वार्टर फाइनल के बाद से बांग्लादेश के खिलाफ प्रतिद्वंद्विता कड़वाहट भरी रही है।

कोई भी इससे इनकार नहीं कर सकता कि बांग्लादेश की टीम 50 ओवर के प्रारूप में मजबूत है और 2012 में एशिया कप के फाइनल में भी जगह बना चुकी है। प्रेरणादायी कप्तान मशरेफ मुर्तजा के मार्गदर्शन में मुशफिकुर रहीम, साकिब अल हसन, महमूदुल्ला रियाध टीम को मजबूती देते हैं। टीम के पास मुस्तफिजुर रहमान और रूबेल हुसैन जैसे दो स्तरीय तेज गेंदबाजों के अलावा मुर्तजा और साकिब जैसे अनुभवी गेंदबाज भी हैं, जिससे भारत को बीच के ओवरों में रन बनाने में परेशानी हो सकती है। बांग्लादेश को अबू धाबी (गुरुवार को अफगानिस्तान के खिलाफ) और दुबई (भारत के खिलाफ शुक्रवार को) में लगातार दो दिन खेलना है, जो भीषण गर्मी में आसान नहीं होगा।

यह शुरुआती कार्यक्रम नहीं था, लेकिन बीसीसीआई एशियाई क्रिकेट परिषद से इस कार्यक्रम को बदलवाने में सफल रहा, जिससे काफी लोग नाराज भी हैं। कुल मिलाकर इस मैच के रोमांचक होने की पूरी उम्मीद है। दूसरी तरफ, पाकिस्तान की टीम अबू धाबी में अफगानिस्तान के खिलाफ बल्लेबाजी में बेहतर प्रदर्शन करना चाहेगी। बाबर आजम, इमाम उल हक और फखर जमां जैसे बल्लेबाजों को राशिद खान का सामना करने में परेशानी हो सकती है, विशेषकर अफगानिस्तान की श्रीलंका पर बड़ी जीत के बाद।

टीमें इस प्रकार हैं:

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, अंबाती रायुडू, दिनेश कार्तिक, महेंद्र सिंह धोनी, मनीष पांडे, केदार जाधव, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, खलील अहमद, शार्दुल ठाकुर, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, अक्षर पटेल और दीपक चहर।

बांग्लादेश: मशरेफ मुर्तजा (कप्तान), साकिब अल हसन, तमीम इकबाल, मोहम्मद मिथुन, लिट्टन दास, मुशफिकुर रहीम, आरिफुल हक, महमूदुल्लाह मोसादेक हुसैन सेकत, नजमुल हुसैन शंटो, मेहदी हसन मिराज, नजमुल इस्लाम अपु, रूबेल हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान और अबु हैदर रोनी।

Loading...
Hide Related Posts