Advertisements

भूख से गई मासूम की जान, मां-पिता की हालत भी गंभीर

सतना: प्रदेश में विकास का बखान करने वाली सरकार के राज में एक बार फिर मासूम कुपोषण के चलते मौत के गाल में समा गया। सतना के मझिगवां जनपद में कुपोषण के चलते आनंद नाम के बच्चे की मौत हो गई। कुपोषण में प्रदेश का सतना हमेशा से अव्वल नंबर पर रहा है। जहां शासन प्रशासन की सारी योजनाएं दम तोड़ती नज़र आ रही है।

जानकारी के मुताबिक पिडरा आदिवासी बस्ती निवासी इस परिवार के पास गरीबी और तंगी के चलते खाने को कुछ नहीं है। पिता लाल और मां बूटी की हालत भी बेहद नाजुक है। सरकार भले ही कई योजनाएं पन्नों में दिखाए हुए हो लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही नजर आ रही है। परिवार को सरकार की किसी भी योजना का लाभ नहीं मिला हुआ है।

वहीं घटना को लेकर जिला प्रशासन ने हाथ खड़े कर दिए हैं। आंगनबाडी़ कार्यकर्ता का कहना है कि बच्चा बेहद कमजोर था। जिसे पुनर्वास केंद्र में भर्ती कराया गया था। लेकिन खान पान सही न मिलने के चलते उसकी हालत बिगड़ती चली गई और उसकी मौत हो गई।

Loading...