Advertisements

अब 20 सितंबर से विद्युत इंजन के साथ चलने लगेंगी ट्रेनें

कटनी। जबलपुर से कटनी रेल लाइन पर विद्युत इंजन के साथ पैसेंजर ट्रेन चलाने में अभी 10 दिन का और वक्त लगेगा। 90 किमी लंबे इस रेलवे ट्रैक पर विद्युत लाइन बिछा तो दी गई है लेकिन कमिश्नर रेल सेफ्टी (सीआरएस) के निरीक्षण के दौरान मिलीं खामियों को दूर करने में समय लगेगा। इन्हें दूर किए बिना इस ट्रैक पर विद्युत इंजन के साथ पैसेंजर ट्रेन चलाना संभव नहीं है। रेल विद्युत विभाग ने 1 सितंबर तक इन खामियों को दूर करने का दावा किया था लेकिन यह दावा 10 सितंबर तक भी पूरा नहीं हो सका है। अब 20 सितंबर से इस ट्रैक पर विद्युत इंजन चलाने का निर्णय लिया गया है।

जबलपुर से रवाना होने वाली 7 ट्रेनों को विद्युत इंजन के साथ इस दिन रवाना किया जाएगा। जिसमें गाड़ी संख्या 12181 जबलपुर-अजमेर दयोदया एक्सप्रेस, गाड़ी संख्या 11271 इटारसी-भोपाल विंध्याचल एक्सप्रेस, गाड़ी संख्या 11449 जबलपुर-माता वैष्णो देवीजी धाम कटरा एक्सप्रेस, गाड़ी संख्या 11466 सोमनाथ एक्सप्रेस, गाड़ी संख्या 22181 जबलपुर-निजामुद्दीन गोंडवाना एक्सप्रेस, गाड़ी संख्या 19810 जबलपुर-कोटा एक्सप्रेस व गाड़ी संख्या 12121 ट्रेन जबलपुर-निजामुद्दीन संपर्क क्रांति एक्सप्रेस शामिल है।
दोनों कर्व लाइन पर विद्युतीकरण का काम पूरा
उधर सीआरएस के निरीक्षण के बाद कटनी साउथ स्टेशन से एनकेजे यार्ड की ओर तथा मुड़वारा स्टेशन की ओर जाने वाली कर्व लाइन पर भी विद्युतीकरण का काम पूर्णता की ओर है। जिसके कारण जबलपुर से आकर बीना व शहडोल रेलखंड पर चलने वाली पैसेंजर व गुड्स ट्रेनों को विद्युत इंजन के साथ चलाया जाएगा।
कई काम अब भी अधूरे
जबलपुर यार्ड का विद्युतीकरण, ट्रैक पर आने वाले स्टेशन यार्ड, कटनी साउथ और मुड़वारा यार्ड सहित जबलपुर से कटनी जाने वाली लाइन पर कई जगह विद्युतीकरण का काम अधूरा है। जिसे पूरा करने में अभी लगभग दस दिनों का समय और लग जाएगा।
गुड्स ट्रेन भी नहीं चला सके रेल अधिकारी
खामियों को दूर कर मालगाड़ी चलाई जानी थी लेकिन पश्चिम मध्य रेलवे का विद्युत विभाग और आरई विभाग, दोनों के इंजीनियर अब तक इस ट्रैक पर मालगाड़ी भी नहीं चला सके। 30 अगस्त से मालगाड़ियों को कटनी से जबलपुर लाया जाना था। सूत्रों के मुताबिक अभी भी कई ऐसे विद्युत सब स्टेशन हैं जहां सीआरएस निरीक्षण के कारण जल्दबाजी में काम कर लिया गया लेकिन अब उनमें खामियां आ रही हैं जिसे दूर किया जाएगा।
20 सितंबर है फाइनल-डीआरएम
उधर जबलपुर रेल मंडल के डीआरएम मनोज सिंह ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि जबलपुर से कटनी रेलवे ट्रैक का विद्युतीकरण पूरा कर लिया गया है लेकिन अभी भी कुछ काम बाकी हैं। 20 सितंबर से विद्युत ट्रैक पर पैसेंजर ट्रेनों को चलाया जाएगा। पहले चरण में सात ट्रेन चलेंगी यह वह ट्रेन हैं जो कटनी की बजाए मुड़वारा स्टेशन के विद्युत ट्रैक से होकर जाएंगी।