केंद्रीय कैबिनेट ने 83000 किमी हाईवे परियोजना को दी मंजूरी

Advertisements

नई दिल्‍ली। दिल्ली में मंगलवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में गेहूं और दालों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य को बढ़ाने का फैसला किया है। चना और मसूर दोनों के स‍मर्थन मूल्‍य में 200-200 रुपए की बढ़ोतरी की गई है। इस साल चना का समर्थन मूल्‍य 4200 रुपए प्रति क्विंटल और मसूर का समर्थन मूल्‍य 4150 रुपए क्विंटल हो गया है।

ऐसी उम्‍मीद जताई जा रही थी कि गुजरात चुनाव के मुद्देनजर केंद्रीय कैबिनेट कुछ अहम निर्णय ले सकती है। इसीलिए गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख की घोषणा होने से पहले इस बैठक को मोदी सरकार के लिए काफी महत्‍वपूर्ण माना जा रहा था।

इसके अलावा अब तक की सबसे बड़ी हाइवे निर्माण की योजना को मंजूरी भी इस कैबिनेट मीटिंग में मिल गई है। लगभग 83,000 किलोमीटर लंबे हाइवे निर्माण पर 7 लाख करोड़ रुपए का निवेश होगा और यह पूरा प्रोजेक्‍ट 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

इस बैठक पर सभी राजनीतिक दलों की निगाहें जमी हुई थी। ऐसी उम्‍मीद जताई जा रही है कि इस कैबिनेट की बैठक के बाद अब जल्‍द ही गुजरात विधानसभा चुनाव की तारीख का ऐलान हो सकता है।

Advertisements