Advertisements

भारत की शानदार वापसी, इंग्लैंड के 4 विकेट गिरे

लंदनः भारत के खिलाफ पांच मैचों की सीरीज में 3-1 की अपराजेय बढ़त बना चुकी इंग्लैंड क्रिकेट टीम के कप्तान जो रूट ने शुक्रवार से शुरू हो रहे पांचवें और अंतिम क्रिकेट टेस्ट में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। ओपनिंग करने आए एलिस्टर कुक और जेनिंग्स ने अच्छी शुरूआत की, लेकिन स्पिनर रविंद्र जडेजा ने ज्यादी लंबी साझेदारी नहीं करने दी और जेनिंग्स को राहुल के हाथों कैच पकड़ाकर आउट किया। इसके बाद कुक आैर मोईन अली ने दूसरे विकेट लिए 63 रनों की साझेदारी की। कुक 71 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें बुमराह ने बोल्ड किया। इसके बाद कप्तान जो रूट आए जो बुमराहा का शिकार बने आैर बिना खाता खोले लाैट गए। इसके बाद भारत को चाैथी सफलता इशांत शर्मा ने जोनी बेयस्टो को 0 पर आउट कर दिलाई। इंग्लैंड के लगातार इन तीन झटकों के कारण भारत वापसी करने में कामयाब रहा।

ENG 135/4 (67 Ovs)

CRR: 2.01

Day 1: 3rd Session – England opt to bat

विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय टीम सीरीज गंवाने के बाद आखिरी मैच में जीत के साथ हार के अंतर को कम करने का प्रयास करेगी। कप्तान ने मैच में दो बदलाव किये हैं जिसमें हनुमा विहारी की जगह रवींद्र जडेजा को लाया गया है जबकि हार्दिक पांड्या को शामिल कर रविचंद्रन अश्विन को बाहर किया गया है।  इंग्लैंड की चौथे क्रिकेट टेस्ट की टीम में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

इस साल विदेशी श्रृंखलाएं गंवाने के बावजूद टाॅप रैंकिंग पर है भारत

आंकड़े देखें तो सौरव गांगुली की अगुआई में भारत ने इंग्लैंड (2002) और आस्ट्रेलिया (2003-04) में श्रृंखलाएं ड्रा करवाई और वेस्टइंडीज में टीम टेस्ट मैच और पाकिस्तान में श्रृंखला जीतने में सफल रही। राहुल द्रविड़ के नेतृत्व में भारत ने वेस्टइंडीज में 2006 और इंग्लैंड में 2007 में श्रृंखला जीती और दक्षिण अफ्रीका में भी टीम एक टेस्ट जीतने में सफल रही। अनिल कुंबले की अगुआई में भारत ने पर्थ के उछाल भरे विकेट पर पहली बार टेस्ट जीता जबकि महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में भारत ने न्यूजीलैंड में श्रृंखला जीती और पहली बार दक्षिण अफ्रीका में श्रृंखला ड्रा कराने में सफल रही। दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में लगातार दो श्रृंखला गंवाने के बाद विदेशी दौरे पर अच्छा प्रदर्शन करने वाली टीम का मिथक टूट गया है और टीम इंडिया यह साबित करने में नाकाम रही है कि वे उपमहाद्वीप के बाहर श्रृंखला जीतने में सक्षम हैं। कोहली की टीम हालांकि 2018 में दोनों विदेशी श्रृंखलाएं गंवाने के बावजूद अब तक अपनी शीर्ष टेस्ट रैंकिंग बचाने में सफल रही है। टीम का संयोजन एक बार फिर चर्चा का विषय है। टीम इंडिया सर्वश्रेष्ठ 11 खिलाडिय़ों के साथ उतरना चाहेगी लेकिन प्रयोग की संभावना भी बनी हुई है।

कुक का होगा आखिरी मैच

टीमें इस प्रकार हैं:
भारत:
 विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, पृथ्वी साव, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, दिनेश कार्तिक, ऋषभ पंत, करूण नायर, हार्दिक पंड्या, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, हनुमा विहारी, इशांत शर्मा, उमेश यादव, शारदुल ठाकुर, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह में से।

इंग्लैंड: जो रूट (कप्तान), एलिस्टेयर कुक, कीटोन जेनिंग्स, जानी बेयरस्टा, जोस बटलर, ओलिवर पोप, मोईन अली, आदिल राशिद, सैम कुरेन, जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्राड, क्रिस वोक्स और बेन स्टोक्स में से।

Hide Related Posts