भोपाल। सोमवार को पूरे देशभर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम रही। भोपाल में भी हजारों कार्यक्रम हुए। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी कई स्थानों पर पहुंचे और कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव में शामिल हुए। लेकिन रात में मुख्यमंत्री निवास में कृष्ण जन्माष्टमी का उत्सव मनाया गया। यहां मुख्यमंत्री पूरे परिवार के साथ मौजूद रहे। भक्ति गीतों, भजनों के साथ यहां कृष्ण जन्मोत्सव मनाया गया। मुख्यमंत्री ने भी यहां भजन गाए। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री खुद कान्हा बनें और उन्होंने अपने ही अंदाज में मटकी फोड़ी।

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व : CM शिवराज बनें कान्हा, अपने ही अंदाज में फोड़ी मटकी
इसके अलावा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह के साथ बरखेड़ी, अहीर मोहल्ला स्थित श्री राधा कृष्ण मंदिर पहुंचे। यहां उन्होंने राधा-कृष्ण के दर्शन कर पूजा अर्चना की। इससे पहले वे भोपाल की केंद्रीय जेल भी पहुंचे और वहां उन्होंने जन्माष्टमी का त्योहार मनाया। जेल में सीएम ने प्रदेश की जेलों में बंद अनुशासित व पात्र सजायाफ्ता कैदियों की सजा में 30 दिन की माफी देने की घोषणा की। उन्होंने जेलों में बंद महिला बंदियों को बिंदी, चूड़ी, सिंदूर और श्रृंगार की अन्य वस्तुएं भेंट की। वहीं पुरुषों को टूथपेस्ट, ब्रश और अन्य सामग्री देने के विभाग के प्रस्ताव को मंजूरी दी।