Advertisements

मासूम बिटिया के साथ पिता की अंतिम यात्रा, जिसने देखा आंखें हुईं नम, श्रद्धांजलि देने उमड़ा जन सैलाब

कटनी। कल जिस जगह पर एक मासूम हाथ मे कुरकुरे का पेकेट लेकर खुश थी, कल जिस जगह पर एक पिता अपनी नन्ही बिटिया को प्रसन्नं देखकर स्वयं भी खुश नजर आ रहा था। आज उसी जगह से इन दोनों की अंतिम यात्रा निकल रही थी।

माधवनगर में भाजपा जिलाध्यक्ष पीताम्बर टोपनानी के भतीजे प्रशांत और 7 साल की पोती आदया की नाले में बह कर असमय मृत्यु के बाद से ही शोक का माहौल था। आज सायं करीब 5 बजे श्री टोपनानी के निवास से पिता पुत्री की अंतिम यात्रा निकली। हजारों लोगों ने शामिल होकर प्रशांत और नन्ही आदया को अंतिम विदाई दी।

छहरी रोड स्थित मुक्ति धाम में अंतिम संस्कार किया गया। सजल नेत्रों से हजारों लोगों ने श्रधांजलि अर्पित की। बेटी आदया के अंतिम संस्कार के वक्त माहौल काफी गमगीन हो गया। हंसती खेलती चुलबुली बेटी को देखकर लग रहा था मानो गहरी नींद में सो रही है। जिसकी गोद मे कल तक खेलती थी आज वही उसकी असमय अंतिम विदाई की तैयारी कर रहा था। कल इस वक्त तक किसी को आभास भी नहीं था कि आदया जिसका जीवन अभी शुरू ही हुआ है उसका इस तरह म्रत्यु से मिलन हो जाएगा।

विधि के विधान के आगे सभी नतमस्तक थे। चेहरे पर उदासी और मन मे इन दोनों पिता पुत्री के विक्षोभ को सभी के चेहरे पर साफ देखा जा सकता था।

आज अंतिम संस्कार में जिलाध्यक्ष पीताम्बर टोपनानी उनके शोकाकुल भाई, प्रताप, प्रकाश टोपनानी के साथ मंत्री संजय सत्येन्द्र पाठक, विधायक सन्दीप जायसवाल, महापौर, शशांक श्रीवस्तब, जबलपुर केंट से विधायक अशोक रोहाणी सहित राजनीतिक दलों के पदाधिकारी, सामाजिक संस्थाओं के लोग गणमान्य नागरिक, व्यापारी, पत्रकार आदि ने शामिल होकर टोपनानी परिवार को ढांढस बंधाई।

Hide Related Posts