Advertisements

वतन पर कुर्बान होने वालों का ऋणि रहेगा यह देश, शहीद परिवारों की चिंता हम सब का दायित्व- संजय सत्येंद्र पाठक

कटनी। वतन पर जान देने का जज्बा लिए सैनिक सरहद पर शहीद होता है। यह जानते हुए भी कि भारत माता की रक्षा करने प्राण प्रण की बाजी लगाकर दुश्मनों से लोहा लेते जान भी जा सकती है बावजूद अपने जिगर के टुकड़े को देश की रक्षा के लिए सरहद पर भेजने का जज्बा लिए माता पिता खुशी-खुशी उन्हें बिदा करते हैं। अपने प्रिय के वतन की खातिर जान देने की खबर के बाद भी ऐसे वीर परिवारों का सिर गर्व से उंचा रहता है ! हम नमन करते हैं ऐसे परिवारों का जिनके घर में देश भक्त सिपाही का जन्म हुआ। हम नमन करते हैं ऐसे माता-पिता का जिन्होंने ऐसे वीर सपूतों को जन्म दिया। यह उद्बोधन आज द्वारका भवन में जिले के शहीद परिवारों का सम्मान करते हुए शहीद सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि राज्यमंत्री संजय सत्येंद्र पाठक ने व्यक्त किये।

इस अवसर पर जिले के शहीद परिवारों का सम्मान किया गया। यह कार्यक्रम स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर जिला पुलिस द्वारा आयोजित किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक संदीप जायसवाल ने कहा कि शहीदों के परिवारों की चिंता करना हम सबका दायित्व है। जिस परिवार के नौजवान ने हमारे देश और हम सबकी चिंता की खातिर अपनी जान न्यौछावर कर दी आज उस परिवार को सम्मानित करते हुए हम सभी गौरवान्वित हैं। कार्यक्रम मे पुलिस उप महानिरिक्षक जबलपुर रेंज व्ही. एस. चौहन, जिला पुलिस अधीक्षक मिथलेश शुक्ला, कलेक्टर केव्हीएस चौधरी, आदि उपस्थित थे।

11 शहीद परिवारों को किया गया सम्मानित
कार्यक्रम में 11 शहीद परिवारों को सम्मानित किया गया। इन्हें शाल श्रीफाल के साथ प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। जिसे राज्यमंत्री संजय सत्येंद्र पाठक विधायक संदीप जायसावाल डीआईजी व्ही एस चौहान, जिला पुलिस अधीक्षक मिथलेश शुक्ला ने शहीद परिवारों को दिया। जिन शहीदों के परिवारों को आज सम्मानित किया गया उसमें शहीद परमानंद पटैल, आशाराम रजक, विनोद सिंह ठाकुर, अवधेश दुबे, श्रवण कुमार, बद्री प्रसाद पाठक रामदीन शुक्ला, भोला प्रसाद मिश्रा, राजेश गौतम, सुशील कुमार तथा विश्राम सिंह ठाकुर के परिजन शामिल थे। सम्मानित होने वाले कई माता पिता इस मौके पर भावुक नजर आये।