न्‍यूज डेस्‍क्‍। मैदान को छह कौवे साफ करेंगे, जिसके लिए कौवों को खास ट्रेनिंग दी जा रही है। अगले हफ्ते से ये काम पर लगेंगे। ये कौवे अपनी चोंच से सिगरेट और

कचरे के टुकड़े उठाकर कूड़ेदान में डालेंगे। इनके इस काम के बदले इन्हें खाने की चीजें दी जाती हैं।

पार्क के प्रमुख निकोलस डिविलियर्स ने कहा कि इसके जरिए प्रकृति द्वारा लोगों को पर्यावरण को साफ रखने का संदेश देना है। इस काम के लिए कौवों की जिस प्रजाति का इस्तेमाल किया जा रहा है,

उसमें केरिन, जैकडॉ और रेवेन शामिल है। ये अपेक्षाकृत इंसानों का व्यवहार ज्यादा अच्छी तरह से समझ पाते हैं।