Advertisements

दुष्कर्म कर वीडियो बनाता था, एक और छात्रा ने दर्ज कराई FIR

इंदौर। भोपाल के छात्रावास में मूक-बधिर लड़कियों के शोषण की एक और घटना उजागर हुई है। शनिवार को 23 साल की एक पीड़ित छात्रा ने छात्रावास संचालक अश्विनी शर्मा की दरिंदगी की कहानी बयां की। पीड़िता के मुताबिक, अश्विनी होस्टल में जान से मारने की धमकी देकर दुष्कर्म के साथ अप्राकृतिक कृत्य भी करता और वीडियो बना लेता था। छह महीने तक छात्रावास में लगातार उसके साथ दरिंदगी होती रही।

हीरानगर पुलिस के मुताबिक, पिपलिया पघारा (धार) निवासी युवती शनिवार शाम भाई और साइन लैंग्वेज जानकार के साथ थाने पहुंची। उसने होस्टल संचालक अश्विनी शर्मा के खिलाफ दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य, ब्लैकमेलिंग और जान से मारने की धमकी देने का प्रकरण दर्ज करवाया।

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि घटना अक्टूबर 2017 से मार्च 2018 के बीच की है। वह आईटीआई कम्प्यूटर कोर्स करने भोपाल गई थी। होस्टल अवधपुरी (भोपाल) में था। अक्टूबर 2017 में संचालक अश्विनी होस्टल में आया और पीड़िता व उसकी सहेलियों को यह कहकर घर ले गया कि तुम्हें अब से यहीं रहना है। अश्विनी भी छात्राओं के साथ ही सोता था। इस दौरान उसने तीन छात्राओं को अश्लील वीडियो दिखाए। कुछ दिनों बाद अश्विनी ने पीड़िता को भी अश्लील फोटो दिखाने की कोशिश की।

विरोध करने पर उसने अप्राकृतिक कृत्य व दुष्कर्म किया और वीडियो भी बनाया था। मकी मिलने पर पीड़िता ने घटना के बारे में किसी को नहीं बताया और घर आ गई। दो दिन पहले पता चला कि आरोपित के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। उसने भाई को घटना बताई और थाने पहुंची। टीआई राजीव भदौरिया के मुताबिक आरोपित के खिलाफ शून्य पर केस दर्ज कर जांच भोपाल भेजी गई है।