Advertisements

3 लोग एक साथ खेल सकेंगे चैस,आदित्य निगम ने बनाया शतरंज का नया ट्रायविजार्ड फीचर

भोपाल। अब दो नहीं, बल्कि तीन लोग शतरंज खेल सकेंगे। भोपाल के आईआईटी स्टूडेंट आदित्य निगम ने तीन लोगों के साथ खेलने वाला शतरंज बनाया है। आदित्य आईआईटी रुड़की से बीटेक कर चुके हैं और किसी न किसी प्रोजेक्ट पर काम करते रहते हैं। यह उनका दूसरा स्टार्टअप है जिसके मद्देनजर उन्होंने इस खेल की खूबियां बताईं। आदित्य ने बताया कि ट्रायविजार्ड चेस एक इनोवेटिव शतरंज है। जिसे तीन लोग खेल सकते है। ये गेम आदित्य ने देश के लाखों लोगों लोगों के बनाया है, जो शतरंज केवल देखना ही नहीं बल्कि साथ मिलकर खेलना चाहते हैं।

ये हैं गेम के फीचर्स

आदित्य बताते हैं गेम में तीन भाग हैं। जिसमें तीनों अपनी चाल चल सकते हैं। इसकी प्रयोग विधि पारंपरिक चेस खेलने की तरह ही होगी। इसमें 156 खाने होंगे। आमतौर पर चेस खेलने पर दो ही लोग खेल पाते हैं सभी लोग देखते रहते हैं। इसमें एक व्यक्ति और जुड़ जाएगा। जिससे खेल का रोमांच भी बढ़ेगा। मुझे बचपन से ही शतरंज पसंद है। भाई के साथ खूब बचपन में चेस खेला। पर घर के दूसरे मैंबर्स खेल खत्म होने का इंतजार करते थे। इसी लिए यह खेल बनाया। हम जो कुछ भी सोचते हैं वह इंवायर्मेंट में रिलीज होकर रिफ्लेक्ट होता है। सभी लोग इसी खेल से जुड़ सकते हैं। इसी कॉन्सेप्ट को लेकर मैंने इस गेम की रचना की।

6 महीनों की मेहनत

आदित्य बताते हैं कि मैंने इस गेम के बारे में काफी पहले सोचा था। गेम को कर्मशियली लांच और स्पॉन्सर करने के लिए इनवेस्टर्स भी ढूंढ रहा हूं। ताकि हर कोई गेम खेल सके। गेम को बड़े लेवल पर लांच करने की तैयारी है। इसे बनाने में काफी खर्चा आया। इसमें मैंने सन बोर्ड को इस्तेमाल किया है। एक बोर्ड की कीमत करीब 1700 रुपये होगी। गेम की मार्केट प्राइज कम ही रखी जाएगी। गेम की डिजाइनिंग में 6-7 महीनों का समय लगा।

पहले एक हारेगा फिर होगी जीत-हार का फैसला

इस गेम में तीन में से पहले एक प्लेयर हारेगा और फिर दो प्लेयर के बीच हार-जीत का फैसला होगा। इस गेम से दिमागी तर्क शक्ति और बढ़ जाएगी। जीतने के लिए हर बार नई रणनीति बनाई होगी। मेरे इस इनोवेशन से भोपाल को देश और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिलेगी। तकनीकी से जुड़े स्टूडेंट्स को इससे लाभ होगा। विश्व भर में लोग इन नए गेम का उपयोग कर सकेंगे।