ट्राई प्रमुख ने आधार नम्बर सार्वजनिक कर दी चुनौती, यूजर ने हैक कर निकाल लिया मोबाइल नम्बर

नई दिल्ली: भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण या ट्राई के प्रमुख आर.एस. शर्मा ने ट्विटर पर अपना आधार नंबर सार्वजनिक करते हुए लोगों को चुनौती दी कि वे केवल इस जानकारी के आधार पर उन्हें नुकसान पहुंचाकर दिखाएं। सोशल मीडिया मंच पर उनका यह ट्वीट तुरंत ट्रेंड करने लगा। उल्लेखनीय है कि शर्मा ने अपना आधार नंबर ( 7621 7768 2740) ट्विटर पर डालते हुए लिखा था, ‘‘अब मैं आपको यह चुनौती देता हूं कि आप कोई ठोस उदाहरण दें कि आप किस तरह मुझे नुकसान पहुंचा सकते हैं।’’

यूजर ने लीक की जानकारी
इलियट एल्डरसन उपनाम वाले फ्रांस के एक सुरक्षा विशेषज्ञ ने शर्मा की चुनौती स्वीकारते हुए ट्राई प्रमुख का आधार हैक करके उनका निजी मोबाइल फोन नंबर सोशल मीडिया पर सार्वजनिक कर दिया। एल्डरसन ने ट्वीट किया कि आधार संख्या असुरक्षित है। लोग आपका निजी पता, वैकल्पिक फोन नंबर से लेकर काफी कुछ जान सकते हैं, अब मैं यही रुकता हूं। मैं उम्मीद करता हूं कि आप समझ गए होंगे कि अपना आधार संख्या सार्वजनिक करना एक अच्छा विचार नहीं है। वहीं इस पर ट्राई चेयरमैन ने लिखा कि उन्होंने फोन नंबर और अन्य जानकारियों के लिए चुनौती नहीं दी थी, चुनौती दी कि आधार के जरिए उन्हें किस तरह नुकसान पहुंचाया जा सकता है। इसमें अभी तक कोई कामयाब नहीं हो पाया। उन्हें भाग्य की शुभकामनाएं।
PunjabKesari


वहीं जब उनसे संपर्क किया गया तो शर्मा ने इस विषय पर ज्यादा कुछ कहने से इनकार करते हुए कहा, ‘‘चुनौती कुछ समय चलने दें।’’ भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) के पूर्व महानिदेशक शर्मा आधार परियोजना के सबसे बड़े समर्थकों में से माने जाते हैं। उनका अब भी कहना है कि यह विशिष्ट संख्या किसी की निजता का उल्लंघन नहीं करता है और सरकार को इस तरह के डेटाबेस बनाने का अधिकार है, ताकि वह सरकारी सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के तहत नागरिकों को सब्सिडी दे सके।