अधूरे कार्यों पर एक्शन में सरकार, इंजीनियर और ठेकेदार भोपाल तलब

चुनाव से पहले अधूरे निर्माण कामों की सुध लेना  शिवराज सरकार ने शुरु कर दिया है.  प्रदेश में करोड़ों के अधूरे प्रोजेक्ट के आड़े आ रही दिक्कतों को लेकर 24 अक्टूबर को भोपाल में बड़ी बैठक होगी. जिसमें सभी मुख्य अभियंता से लेकर 50 करोड़ से ऊपर के प्रोजेक्ट पर काम कर रहे 50 ठेकेदारों को भी बुलाया गया है. इसमें काम की गति पर चर्चा होगी.

बैठक में समय अवधि में काम पूरा नहीं करने वाले ठेकेदारों के खिलाफ की गई कार्रवाई और प्रोजेक्ट की अड़चनों पर चर्चा होगी.

प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री रामपाल सिंह के मुताबिक अधूरे काम पूरा करने और केंद्र में लंबित प्रस्तावों को समय पर मंजूरी दिलाने को लेकर शिवराज सरकार गंभीरता से काम कर रही है.

सरकार की ‘चुनावी’ योजना के मुख्य बिंदू

 -पीडब्ल्यूडी विभाग ने 24 अक्टूबर को बुलाई बैठक

-करोड़ों की लागत के अधूरे प्रोजेक्ट पूरा करने पर होगा फोकस
-50 करोड़ से ज्यादा की लागत वाले प्रोजेक्ट पर चर्चा
-प्रोजेक्ट की अड़चनें दूर करने में जुटी सरकार
-प्रोजेक्ट की लागत बढ़ने पर नये प्रस्तावों को दी जाएगी मंजूरी
-प्रोजेक्ट पूरा नहीं करने वालों के खिलाफ होगी सख्ती
-परफार्मेंस गारंटी वाली सड़कों के मेंटनेंस पर भी होगी चर्चा
-चुनाव से पहले सरकार का निर्माण कार्य पूरा करने पर फोकस

Hide Related Posts