दिवाली पर कार और फ्लैट देने वाले हीरा कारोबारी ने,इस बार कर्मचारियों को दिया ऐसा तोहफा सब हैरान !

Advertisements

दिवाली के दिन चारों ओर खुशियाँ और प्रकाश फैला होता है इस दिन दुश्मन भी दोस्त बन जाते है क्योंकि ये त्यौहार ही शत्रुता पर अच्छाई की जीत के लिए प्रसिद्ध है. ये दिन नौकरीपेशा करने वालों के लिए भी बेहद ख़ास होता है. इस दिन कई लोगों को बोनस मिलता है तो किसी को तरक्की. लेकिन बोनस के रूप में कार और फ्लैट मिलना किसी सपने के पूरा होने से कम नहीं है. सूरत के हीरा कारोबारी ने इस बार जो तौफा दिया उसे जानकर आपके होश उड़ जाएंगे.

मौजूदा खबर अनुसार बता दें कि पिछले वर्षों कर्मचारियों को दिवाली पर बतौर बोनस गाड़ी और फ्लैट देने वाले हीरा कोरबारी सावजी ढोलकिया को कोई भूल नहीं पाया है. लेकिन इस बार दिवाली पर उन्होंने अपने कर्मचारियों को नहीं बल्कि उनकी पत्नियों को गिफ्ट दिया है जिसे देखकर सब हैरान हैं. दरसल, दिवाली पर अपने यहां काम करने वाले कर्मचारियों की पत्नियों को हेलमेट वितरित करने वाला है. लेकिन इस साल वह बोनस के माध्यम से जिंदगी बचाने का संदेश दे रहे हैं.

बता दें कि दिवाली पर सावजी ढोलकिया ने हेलमेट बांटने के पीछे एक दुखद घटना को कारण बताते हुए कहा है कि एक महीने पहले उनके यहां काम करने वाला एक कर्मचारी अपनी पत्नी को बाइक पर बिठाकर कहीं जा रहा था और बाइक स्लिप हो गई. पति ने हेलमेट पहन रखा था इसलिए वह बच गया लेकिन पत्नी के सिर पर चोट आने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई. इस दुर्घटना के बाद ढोलकिया ने महिलाओं को सुरक्षा देने के मंशा से कर्मचारियों की पत्नी को हेलमेट देने का फैसला किया है.

बताते चलें कि छह हजार करोड़ रुपए के टर्नओवर वाली कंपनी के मालिक होते हुए भी सावजी ढोलकिया ने अपने बेटे हितार्थ को जीवन के उतार-चढ़ाव समझाने के लिए सिर्फ 500 रुपए देकर हैदराबाद भेज दिया था. हितार्थ ने न्यूयार्क से बीबीए किया है. उसने हैदराबाद में छोटी-बड़ी जगह काम कर जीवन के कई अनुभव हासिल किए है. मानसिक शांति और स्वास्थ्य के लिए सावजी ढोलकिया ने एक महीने तक मौन रखा था. इस दौरान वह कंपनी के महत्वपूर्ण फैसले चिट्ठी लिखकर सुनाते थे.

Advertisements