Advertisements

सिरफिरे ने मॉडल को बनाया बंधक, पुलिस ने किया शादी कराने का वादा तो 12 घंटे बाद कर दिया रिहा

भोपाल। एक सनसनीखेज घटनाक्रम में शुक्रवार सुबह राजधानी के मिसरोद इलाके रोहित सिंह नाम के एक सिरफिरे ने मुंबई की एक मॉडल को युवती के ही फ्लैट में बंधक बना लिया। युवती बीएसएनएल के रिटायर्ड अफसर की बेटी है और बहुमंजिला इमारत की पांचवी मंजिल पर बने फ्लैट में रहती है।
रोध करने पर रोहित सिंह ने युवती को कथित रूप से कैंची से वार कर बुरी तरह से लहूलुहान कर दिया था। रोहित ने बाकायदा पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर वायरल भी किया था। जिसमें युवती घायल दिख रही थी।

युवती को सकुशल छुड़ाने के लिए एसपी साउथ राहुल कुमार लोढ़ा,रोहित के साथ लगातार संवाद बनाए हुए थे। अंतत: पुलिस द्वारा रोहित की युवती के साथ शादी कराने के वायदा करने पर शाम 7 बजे रोहित ने फ्लैट कर दरवाजा खोलकर युवती को छोड़ दिया। इस तरह 12 घंटे तक चले ड्रामे का पटाक्षेप हुआ और पुलिस ने राहत की सांस ली।

युवती को बंधक बनाने वाले आरोपी रोहित के विरुद्ध पुलिस पर हमला करने पर धारा 307, 353, 332 आईपीसी एवं युवती को बंधक बनाकर धमकी देकर प्राणघातक वार करने पर धारा 307, 342, 452, 506 आईपीसी का अपराध पंजीबद्ध किया जा रहा है।

मिसरोद पुलिस के मुताबिक युवती एमटेक करने के बाद मुंबई में मॉडलिंग करती है। पूर्व में उसकी पहचान रोहित सिंह नाम के युवक से हुई थी। इस दौरान रोहित युवती से प्रेम करने लगा। रोहित भी मुंबई में मॉडलिंग के पेशे से जुड़ा है। अलीगढ़ निवासी रोहित युवती पर काफी दिनों से शादी करने के लिए दबाव भी बना रहा था।

लेकिन युवती इसके लिए तैयार नहीं हो रही थी। पुलिस के मुताबिक शुक्रवार सुबह 7 बजे रोहित,युवती के फ्लैट में घुस गया। युवती से विवाद होने पर रोहित ने उसे कैंची से हमला कर घायल कर दिया। घटना की सूचना मिलने पर मिसरोद थाने के एसआई गोविंदसिंह राजपूत ने मौके पर जाकर रोहित को काबू करने की कोशिश की तो रोहित ने उस पर भी हमला कर दिया और दरवाजा बंद कर लिया।

बाल्टी में रखकर पहुंचाया गया सामान

घटना की खबर मिलते ही भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और फ्लैट में घुसने की रणनीति बनाना शरु की गई। फ्लैट में पीछे के रास्ते से प्रवेश करने के लिए हाइड्रॉलिक प्लेटफार्म वाली क्रेन भी बुलाई गई। रोहित के कहने पर बाल्टी में रखकर खाने-पीने का सामान भी पहुंचाया गया था। उधर रोिंहत द्वारा फ्लैट का दरवाजा खोलते ही पहले युवती बाहर निकली। इसके बाद सिरफिरा रोहित भी बाहर निकल आया। युवती को इलाज के लिए नजदीक के एक निजी अस्पताल ले जाया गया है।