टैक्सी और कैब में नहीं लगेगा चाइल्ड लॉक, जुलाई 2019 से होगा अमल

Advertisements

नई दिल्ली। जुलाई, 2019 से टैक्सी और कैब में चाइल्ड लॉक बंद हो जाएंगे। ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री कार के भीतर बिना चाइल्ड लॉक के ऐसी कुंडी बनाने पर काम कर रहा है, जो अगले साल से उपलब्ध हो जाएगी।

सोसायटी ऑफ ऑटोमोबाइल मैन्यूफैक्चररर्स यानि सियाम की टेक्निकल स्टैंडिंग कमेटी ( CMVR-TSC) की एक बैठक में इसको लेकर बातचीत हुई है।

इन कुंडियों को डीलर्स टैक्सियों और कैब में लगाएंगे। भविष्य में सभी कारों में चाइल्ड लॉक की जगह इन्हें लगाया जाएगा, क्योंकि कमर्शियल इस्तेमाल के लिए कौन सी गाड़ी सड़कों पर दौड़ेंगी, ये साफ नहीं है। ऐसे में महिला सुरक्षा को देखते हुए टैक्सी और कैब्स ये लॉक लगाए जाएंगे।

हाई लेवल मीटिंग में मौजूद एक ऑटो एक्सपर्ट ने ये जानकारी दी कि, “ये नया फीचर केवल टैक्सी और कैब्स में इस्तेमाल होने वाली गाड़ियों में लगाया जाएगा। वहीं मौजूदा गाड़ियों में लगे चाइल्ड लॉक की जगह इस कुंडी को लगाने का प्रावधान होगा। स्थानीय आरटीओ की ये जिम्मेदारी होगी कि वो ये जांचें कि गाड़ियों में चाइल्ड लॉक नहीं लगे हैं।”

बैठक में मौजूद ऑटो एक्सपर्ट ने माना कि, कैब्स और टैक्सी में बच्चों की सुरक्षा को लेकर जरूर चिंता जताई गई। मगर ये फैसला उस आधार पर लिया गया है कि कोई भी बच्चा कैब में अकेला सफर नहीं करता है। उसके साथ कोई न कोई व्यस्क जरूर रहता है। इसे निजी गाड़ियों में नहीं लगाया जाएगा।

Advertisements