विधायक हेमंत कटारे के भाई ने किया अस्पताल पर कब्जा

Advertisements

भोपाल। आईएसबीटी के पास स्थित पालीवाल अस्पताल में शुक्रवार सुबह भिंड के अटेर से कांग्रेस के विधायक हेमंत कटारे के भाई योगेश ने हंगामा मचाया और अपने साथियों के साथ मिलकर अस्पताल के स्टाफ को धमकाया और मरीजों का कोई उपचार नहीं होने दिया ।

नए मरीजों के पर्चे भी नहीं बनाने दिए और आईसीयू में भर्ती मरीजों का उपचार के लिए भी डाक्टरों भी नहीं जाने दिया। इस दौरान एक मरीज की हालत बिगड़ गई तो उसको दूसरे निजी अस्पताल में शिफ्ट करना पड़ा। इस हंगामे के पीछे कांग्रेस विधायक और अस्पताल के डायरेक्टर के बीच भवन के किराए को लेकर विवाद सामने आया है। अस्पताल डायरेक्टर ने इस पूरे मामले की लिखित शिकायत आला पुलिस अधिकारियों से की है। इस घटना पर विधायक के भाई का कहना है कि अस्पताल ने छह महीने से किराए का भुगतान नहीं किया है। वहीं अपने ऊपर लगे तमाम आरोपों को योगेश ने एक पत्र जारी कर खारिज किया है।

मेरी जान को खतरा –

पालीवाल डॉ. जेपी पालीवाल ने बताया कि सुबह योगेश कटारे अस्पताल में घुस आए। जहां अस्पताल के स्टाफ को धमकाया और बोले कि अब अस्पताल में कोई काम नहीं होगा, अस्पताल खाली करवाया जा रहा है। नए पर्चे और रजिस्ट्रेशन नहीं होने दिए गए। उनके साथ 15 से 20 लोग थे।

डॉक्टर पालीवाल ने बताया अस्पताल के बाहर विधायक के भाई ने टैंकर अड़ाकर एंबुलेंस को अंदर नहीं आने दिया। मुझे जान से मारने की धमकी दी। मुझे ऐसा लगता है कि मेरा अपहरण कर हत्या भी की जा सकती है। सभी आरोप गलत: योगेश कटारे योगेश कटारे ने घटना के बाद उन पर लगे सभी आरोप से इंकार किया है।

उन्होंने बाकायदा एक पत्र जारी कर कहा है कि डॉ. पालीवाल को भवन किराये पर दिया था। अनुबंध की शर्तों का पालन नहीं किया गया। नोटिस जारी किया गया, लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने जवाब नहीं दिया। छह माह से किराया भी नहीं दिया जा रहा है इसके बाद उन्होंने भवन के दो फ्लोर किसी और को किराए पर दे दिए।

किराए को लेकर है विवाद –

आईएसबीटी के पास पेट्रोप पंप के मालिक कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे और उनके भाई योगेश ने डॉक्टर जयप्रकाश पालीवाल को 2015 में भवन किराए पर दिया था।

जिस पर डॉक्टर ने पालीवाल अस्पताल बनवाया। जिसका किराया हर महीने 15 लाख के करीब अदा करना पड़ता है। छह माह से पालीवाल द्वारा किराया अदा नहीं किया जा रहा है, अस्पताल प्रबंधन का तर्क है कि अगस्त में भवन को खाली करने वाला अनुबंध पूरा होगा, लेकिन कांग्रेस विधायक के भाई योगेश उसको 7 जुलाई तक खाली कराना चाहते हैं और सवा करोड़ के करीब रिकवरी के लिए नोटिस जारी कर दिया है। इस पर उन्होंने किराया देने से इंकार कर दिया था।

डॉक्टर किराया देंगे, विधायक के भाई अगस्त तक का समय देंगे सुबह के घटनाक्रम के बाद एक बार फिर से डाक्टर जयप्रकाश पालीवाल और योगेश कटारे के बीच में बैठक हुई थी। जिसमें यह तय अभी हुआ है कि डाक्टर बाकाया किराया देंगे और वह कटारे अगस्त तक समय देंगे। -सतेंद्र सिंह कुशवाह प्रभारी टीआई गोविंदपुरा थाना

Advertisements