मंदसौर की मासूम का हाल जानने एमवाय पहुंचे सीएम शिवराज सिंह

Advertisements

मंदसौर। मंदसौर में दरिंदगी का शिकार हुई मासूम को देखने गुरूवार को सीएम शिवराज सिंह चौहान पत्नी साधना सिंह और जनसंपर्क मंत्री नरोत्तम मिश्रा के साथ इंदौर के एमवाय अस्पताल पहुंचे.

उन्होंने लाडो का हालचाल जाना और इलाज पर संतुष्टि जताई. उन्होने कहा कि लाडो की पूरी जिम्मेदारी अब सरकार की है. वह अब अपने माता पिता के साथ ही मध्य प्रदेश की बेटी है. सीएम ने कहा कि आरोपियों को फांसी की सजा मिले, इसके लिए पुलिस पुख्ता सबूत कोर्ट में पेश करेगी. उन्होंने कहा कि ऐसे दरिंदों को फांसी की सजा मिले इसके लिए उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस और हाईकोर्ट के जजों से भी बात की है और उन्हें पत्र भी लिखे हैं.

सीएम ने बताया कि उन्होंने मांग की है कि सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में भी लोअर कोर्ट की तरह फास्ट ट्रेक कोर्ट लगाए जाएं जिससे ऐसे दरिंदों को जल्द से जल्द फांसी पर लटकाया जा सके. उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं के लिए पोर्न साइट्स जिम्मेदार हैं. सीएम ने कहा कि बेटी के मान सम्मान के पाठ अब सिलेबस में भी जोड़े जाएंगे जिससे समाज में बेटियों के प्रति सम्मान बढ़ सके. साथ ही उन्होंने सतना की रेप पीड़ित मासूम के बारे में कहा कि उसका इलाज एम्स में चल रहा है और सरकार उसके इलाज से लेकर पढ़ाई, शादी और नौकरी की पूरी जिम्मेदारी उठाएगी.

Advertisements