TAURUS (20 अप्रैल – 20 मई): परिस्थितियों में विशेष रूप से परिवर्तन होंगे । घर मे वाहन की खरीद बिक्री हो सकती है। विपरीत परिस्थितियों में विकास संभव है। आय कम और खर्च अधिक रहेगा। भाई बंधुओं से मतभेद हो सकता है। स्वभाव में उत्तेजना से बनते कामों में विघ्न उत्पन्न हो सकता है। पूर्व में किए गए प्रयासों का प्रतिफल कुछ दिनों के उपरांत ही मिलेगा। दाम्पत्य जीवन में नई चेतना का संचार होगा। बंधु बांधव का सहयोग बढ़ेगा। छात्रों के अंदर प्रतियोगिता के प्रति जागरूकता पैदा होगी। श्रावण महत्व का पाठ करें।

GEMINI (21 मई – 20 जून): किसी वस्तु विशेष को प्राप्त करने की चाहत बढ़ेगी। मंगल की दृष्टि होने से आर्थिक क्षेत्र में विकास के अवसर बढ़ेंगे। साझेदारी में काम करने का मौका मिल सकता है। जल्दबाजी में फैसला नहीं करें। धन हानि का संयोग बन रहा है। क्रोध और तनाव का वातावरण बना रहेगा। व्यर्थ की यात्रा में परेशानी हो सकती है । खाने में मसालेदार वस्तुओं का सेवन करने से परहेज करें अच्छा रहेगा। गणेश स्रोत का नित्य पाठ करें।

CANCER (21 जून – 22 जुलाई): आर्थिक समस्या का सामना करना पड़ेगा। अनियोजित खर्च बढ़ेगा।मन बुद्धि में हमेशा भ्रम की स्थिति बनी रहेगी । छोटी-छोटी बात को लेकर क्रोध बढ़ेगा। स्वास्थ्य को लेकर कुछ समस्या आ सकती है। मित्र वर्ग से सावधान रहें। किसी नवीन कार्य में धन का निवेश ना करें। दाम्पत्य जीवन में प्यार को लेकर परेशानी आ सकती है। माता के साथ सम्बन्ध में कुछ तनाव हो सकता है। सोमवार का व्रत करें।

LEO (23 जुलाई – 22 अगस्त): लाभ का दौर चलते रहेगा। उत्तरार्ध में व्यय भाव में होने से खर्च अधिक बढ़ जाएगा। शादी के योग्य हो गए हैं तो यह बहुत अच्छा समय है परिणय सूत्र में बंध सकते हैं। सिरदर्द तथा रक्त विकार हो सकता है। परिवार में कलह एवं चोट आदि का भय बना रहेगा। बनते कार्यों में विघ्न आ सकता है। संतान तथा परिवार के बीच सहयोग में कमी रहेगी। व्यवसायिक क्षेत्र में अस्थिरता एवं उथलपुथल के हालात का सामना करना पड़ सकता है। दुर्गा सप्तसती का पाठ करें।

VIRGO (23 अगस्त– 22 सितंबर): कार्य क्षेत्र में महत्वपूर्ण लोगों के साथ संपर्क बढ़ेंगे। नवीन कार्य की योजना बनेगी परंतु क्रियान्वयन में अभी विलंब रहेगा। प्रॉपर्टी में कोई निवेश हो सकता है। उत्तरार्ध से आर्थिक उलझन आएगी। अधिक खर्च के साथ घरेलू परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। मन में अशांति एवं असंतोष रहेगा। इसके कारण क्रोध बढ़ सकता है। शिव की स्तुति करें।

LIBRA (23 सितंबर– 22 अक्टूबर): माह लाभ के संकेत दे रहा है। लाभ के लिए किये गए प्रयास सार्थक होंगे। किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति के सहयोग से कार्य क्षेत्र में सफलता मिलेगी। किसी कार्य के लिए पूर्व में किये गए प्रयास सार्थक होंगे। यात्रा में चोट आदि का भय है। माता-पिता से मतभेद हो सकते हैं। सरकारी क्षेत्र में सफलता के लिए संघर्ष करना पड़ेगा। हनुमान चालीसा का पाठ करें लाभ होगा।

SCORPIO (23 अक्टूबर – 21 नवंबर): पारिवारिक एवं आर्थिक उलझनों से मन परेशान रहेगा। नियोजित योजनाओं में बाधाएं आ सकती हैं। परिवार में मतभेद हो सकता है। कठिन परिस्थितियों के बावजूद आय के साधन बनते रहेंगे। सरकारी नौकरी में है तो प्रलोभन से दूर रहें। ऐसे मामलों में शिकायत गुप्त रूप से की जा सकती है। प्रतिदिन बजरंग बाण का पाठ करें।

SAGITTARIUS (22 नवंबर– 21 दिसंबर): कार्य क्षेत्र में सफलता का योग है। संतान पक्ष से शुभ समाचार मिल सकता है। नौकरी नहीं कर रहे है तो नौकरी मिल भी सकती है। शरीर में कष्ट हो सकता है। कोई गंभीर गुप्त रोग की शुरुआत हो सकती है। शारीरिक कष्ट क्रोध एवं मानसिक अशांति बनी रहेगी। क्रोध की अधिकता मानसिक तनाव दे सकता है। बनते कार्यों में विघ्नों का सामना बना रहेगा।बृहस्पतिवार के दिन विष्णु भगवान् की पूजा करें। केले के पेड़ में जल दें।

CAPRICORN (22 दिसंबर – 19 जनवरी): किसी नवीन कार्य योजना पर विचार विमर्श होगा। परिवार में तनाव एवं वैचारिक मतभेद होंगे। धार्मिक कार्यों में प्रवृत्ति बनेगी। मानसिक समस्या दूर होगी। आर्थिक उलझन के कारण मन चिंतित रहेगा। दूरस्थ यात्राएं होंगी। शरीर में चोट आदि का भय रहेगा। महीने के उत्तरार्ध में स्वास्थ्य में परेशानी, सिरदर्द, आंखों में कष्ट हो सकता है। स्वभाव में चिड़चिड़ापन आ सकता है। शनि स्तोत्र का पाठ करें।

AQUARIUS (20 जनवरी – 18 फरवरी): व्यवसाय में संघर्षपूर्ण परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा। कुछ प्रतिष्ठित लोगों से मेलजोल बनाकर रखें । मेलजोल से आपके रुके हुए कार्यों में लाभकारी साबित हो सकता है। संतान को लेकर चिंता बनी रहेगी। परिवार में शुभ एवं धार्मिक कार्यों पर खर्च का योग बन रहा है। यदि भूमि या जायदाद को लेकर मतभेद पहले से चल रहा है तो उसे दूर होने में विलंब होगा। शनि स्तोत्र का पाठ करें।

PISCES (19 फरवरी – 20 मार्च): परिश्रम और पुरुषार्थ करने पर धन लाभ के अवसर प्राप्त होंगे। किसी निकट सहयोगी की सहायता से बिगड़े हुए कार्यों में सुधार हो सकता है। साझेदारी के कार्यों में उचित लाभ का योग नहीं बन रहा है। संतान को लेकर परेशान हो सकते है। मन में हमेशा लाभ ही दिखाई देगा यह स्थिति आपके लिए ठीक नहीं है। किसी नए प्रदेश स्थान पर जाने के अवसर प्राप्त होंगे। प्यार का सिलसिला चल रहा है तो सावधान हो जाइये। छोटी सी बात को लेकर रिश्‍ते टूट सकते हैं। सुन्दर काण्ड का पाठ करें।