भूतों के डर से इस थाने में हर महीने होता है पूजा-पाठ!

Advertisements

 जमशेदपुर। झारखंड के जमशेदपुर में एक थाना ऐसा है, जहां भूतों का डेरा है. भूतों से छुटकारा पाने के लिए इस थाने में पूजा अर्चना की जा रही है.

यह पूजा अर्चना हर महीने की जाती है. ताकि यहां से भूत को भगाया जा सके. इस थाने में हत्या, लूट और डकैती के ढेर सारे मामले हर महीने आते हैं. भूतों के डर से यह थाना रात के 11 बजते ही बंद हो जाता है. इतना ही नहीं इस थाना में टेलीफोन काम नहीं करता है. जबकि प्रतिदिन टेलीफोन की मरम्मत होती है. उसके बाद अपने आप टेलीफोन बंद हो जाता है.
थाना में तैनात एसआई एस.बास्के का कहना है कि ग्रह गोचर की शांति के लिए पूजा की जा रही है क्योंकि यहां कुछ भी ठीक नहीं है. यहां सब कुछ ठीक करने के लिए हर महीने पूजा-पाठ किया जाता है.
इस थाना में तैनात एसआई सहित थानेदार और मुंशी सभी परेशान रहते हैं. परेशानी से बचने के लिए थाने में पूजा की जा रही है. कहा जाता है कि रात के 12 बजते ही थाने से अजीब तरह की आवाज आती है. लोगों की माने तो जिस जगह पर थाना बनाया गया है वहां पर पहले श्मशान घाट हुआ करता था. थाना उसी श्मशान की जमीन पर बनाया गया है. यही वजह है कि थाना भूतों की चपेट में है.

हालांकि थानेदार से इसकी सच्चाई जानने की कोशिश की तो थानेदार कुछ भी बोलने से बचते नजर आए. इतना ही नहीं थाने के क्राइम सूचना बोर्ड 2016 तक ही अपडेट है. जबकि 2017 और 2018 का लेखा-जोखा थाने में नहीं है. इसकी वजह है पंडित द्वारा बताए गए नियम. लोगों का मानना है कि पंडित ने पुलिसवालों से साफ कहा था कि अगर आप सूचना-पट्ट पर अपराध का लेखा-जोखा रखेंगे तो अपराध और बढ़ेगा.

Advertisements