सोनिया गांधी से मिलीं सपना चौधरी, थाम सकती हैं कांग्रेस का हाथ

Advertisements
 दिल्ली: दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने पहुंची हरियाणवीं डांसर सपना चौधरी ने कहा कि यह मुलाकात कोई राजनीतिक से जुड़ा मामला नहीं है। वे मुझे अच्छी लगती हैं इसलिए मैं उनसे मिली हूं।

बहुत कुछ दिया है। इस कदम से उनके कांग्रेस में शामिल होने की अटकलें लगनी लगी हैं, हालांकि इस बारे में उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है। एक सवाल के जवाब में सपना चौधरी ने ये भी कहा कि आने वाले वक्त में हरियाणा या फिर देशभर में कांग्रेस के लिए प्रचार कर सकती हैं।

सपना ने यह भी कहा कि हर किसी की जिंदगी आच्छा और बुरा समय दोनों आता है लेकिन जब अच्छा समय आए तो उसे कैच कर लेना चाहिए। कांग्रेस के लिए एक गाना डेडिकेट करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि- लगे रहिए।

एक नजर सपना चौधरी पर
सपना का जन्म 25 सितंबर 1990 में रोहतक में मध्यवर्गीय परिवार में हुआ था। सपना ने शुरुआती शिक्षा रोहतक से की। पिता रोहतक में एक निजी कंपनी में काम करते थे. 12 साल की उम्र में पिता को खोने वाली सपना चौधरी ने ही अपने दम पर अपने परिवार को पाला। हरियाणा के रोहतक में जन्मी सपना को उसके पहले गाने सॉलिड बॉडी ने ही सुपरस्टार बना दिया था। इस गाने की बदौलत सपना कुछ ही दिनों में हरियाणा में ही नहीं बल्कि यूपी, राजस्थान, दिल्ली व पंजाब में भी फेमस हो गई।

विवादों से सपना चौधरी का गहरा नाता
सपना चौधरी का करियर शुरू से ही विवादों में रहा। सपना चौधरी अपनी एक रागनी के कारण विवादों में आई थी। 17 फरवरी 2016 को गुडग़ांव के चक्करपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में सपना चौधरी ने रागनी ‘बिगड़ग्या’ गाई थी। इस रागिनी के जरिए उन्होंने दलितों पर सवाल उठाए थे और जातिसूचक शब्द बोले थे। इस पर दलित समाज ने जमकर विरोध किया था। हालांकि बाद में सपना चौधरी ने इस पर माफी मांग ली थी।


सपना ने किया था आत्महत्या का प्रयास
फेसबुक पर सपना खिलाफ अभियान छेड़ा गया था। जिस पर लगातार उनके खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियां की जा रही थीं। इन टिप्पणियों से परेशान होकर सपना ने जहर खाकर खुदकुशी की कोशिश की थी।

Advertisements