फौजी के यहां चोरी की घटना को गंभीरता से नहीं ले रही पुलिस

Advertisements

कटनी। रीठी थाना अंतर्गत ग्राम निटर्रा में एक फौजी के मकान में हुई लगभग 5-6 लाख रूपए की चोरी के मामले को पुलिस गंभीरता से नहीं ले रही है तथा फौजी के द्धारा संदेहियों का नाम बताने के बावजूद पुलिस उनसे कड़ाई से पूछताछ नहीं कर रही है।

पुलिस अधीक्षक से प्रभावी कार्रवाई की फरियाद, 5 से 6 लाख के जेवर ले गए थे चोर

पीड़ित फौजी ने पुलिस कप्तान अतुल सिंह का ध्यान इस ओर आकर्षित कराते हुए चोरी के मामले में प्रभावी कार्रवाई कराए जाने की मांग की है। इस संबंध में जानकारी देते हुए पीड़ित फौजी ग्राम निटर्रा निवासी विघा भूषण पांडे ने यशभारत को बताया कि उसके ग्राम स्थित मकान में बीती 29 व 30 मई की दरम्यानीरात अज्ञात बदमाशों ने उस समय धावा बोला।

जब दो मंजिला मकान में उसकी पत्नी अकेली थी। बताया जाता है कि वारदात को अंजाम देते हुए बदमाश मकान के अंदर से 16 हजार रूपए नगद सहित लगभग 5 से 6 लाख रूपए कीमती सोने व चांदी के जेवर लेकर चंपत हो गए। चोरी की जानकारी दूसरे दिन पुलिस को दी गई। जिसके बाद पुलिस ने मौका मुआयना किया और अज्ञात बदमाशों के विरूद्ध मामला दर्ज कर उनकी तलाश में जुटी लेकिन एक माह बाद भी पुलिस को चोरी की इस वारदात में कोई सफलता नहीं मिली।

फौजी विघाभूषण पांडे ने यशभारत को बताया कि उसने पुलिस को यह भी जानकारी दी कि उसके मकान में आशीष ठाकुर व शमीम खान नामक युवकों ने अपने साथियों के साथ चोरी की वारदात को अंजाम दिया है। इसके बावजूद पुलिस आरोपित युवकों से कड़ाई से पूछताछ नहीं कर रही है। विघाभूषण पांडे ने यह भी बताया कि वह रीठी थाने जाता है तो उससे कहा जाता है कि उनके पास केवल तुम्हारी चोरी बस का मामला नहीं है बल्कि और भी काम है। परेशान फौजी विघाभूषण ने मामले का ध्यान पुलिस अधीक्षक की ओर आकर्षित कराते हुए प्रभावी कार्रवाई कराए जाने की मांग की है।

Advertisements