पुराना फैशन फिर से लौटा -हाथ से बनी साड़ियों की डिमांड

Advertisements

जबलपुर। त्योहारों के इस सीजन में बाजारों में बिक रहे कपड़ों में पुराना फैशन फिर से लौट आया है। खास बात यह है कि मशीनों के बजाए हाथ से बनी साड़ियां पहुंच चुकी हैं। इनमें खासियत यह है कि हर साड़ी की डिजाइन अलग होती है, जिसके कारण महिलाओं को यह काफी पसंद आ रहीं हैं। साड़ियों के कारोबारी नवनीत जैन ने बताया कि इन दिनों बनारस, बंगलोर, कोयंबटूर, कोलकाता, दिल्ली व मुंबई के साथ ही चांपा की कोसा सिल्क साड़ियां भी नजर आ रही हैं। कारोबारियों का कहना है कि सभी साड़ियां अलग-अलग डिजाइन की होने के कारण यह पहली पसंद बनती जा रही है। ये 250 से लेकर 1600 रुपए तक की रेंज में उपलब्ध हैं। दूकानों में इस बार नैनो सिल्क पट्टू सिल्क की साड़ियों के साथ कतान सिल्क व बनारसी सिल्क की साड़ियां मौजूद हैं।

Advertisements