पुलिस आरक्षक संजय सिंह ने अपने आवेदन में लिखा है कि अपनी मांगों को लेकर पुलिस कर्मी सपरिवार विरोध प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं। इस आंदोलन में मेरी पत्नी भी शामिल होना चाहती है, जबकि मैं नहीं चाहता कि वह धरना प्रदर्शन में शामिल हो, इसलिए मेरी पत्नी को रोकने के लिए मुझे उसे पीटने के अनुमति दें।

साथ ही पति ने अपने आवेदन में लिखा है कि मेरी पत्नी का मायका राजनीतिक घराने से संबंधित होने के कारण मुझ पर आपराधिक मामला दर्ज करा सकते हैं। पुलिस आरक्षक का यह पत्र जिले में चर्चा का विषय बना हुआ है।