स्कूलों में नहीं पढ़ा सकेंगे अनट्रेंड टीचर, 6 हजार टीचर्स को दिया जा रहा प्रशिक्षण

Advertisements

इंदौर। प्राइवेट स्कूलों में कई शिक्षक बिना किसी प्रशिक्षण के छात्रों को पढ़ाना शुरू कर देते हैं। लेकिन अब केंद्र सरकार ने 2019 तक सबी स्कूलों में प्रशिक्षित शिक्षकों को रखना अनिवार्य कर दिया है। केंद्र सरकार द्वारा शिक्षा के अधिकार के तहत सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों में गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा के लिए प्रयास किया जा रहा है।

इसके तहत इंदौर सहित देशभर में नेशनल स्कूल ऑफ ओपन स्कूलिंग के माध्यम से अनट्रेंड शिक्षकों को डीएलएड कोर्स के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इंदौर जिले के स्कूलों में करीब साढ़े छह हजार अनट्रेंड शिक्षक हैं, जो डीएलएड कोर्स कर रहे हैं। 2019 से जिस भी स्कूल में अनट्रेंड शिक्षक होगा, उसकी मान्यता भी खत्म कर दी जाएगी।

Advertisements