FIFA World Cup: मैक्सिको के खिलाफ जीत से अभियान शुरू करना चाहेगा जर्मनी

मास्को। विश्व कप से पहले के अपने औसत प्रदर्शन को भुलाकर गत चैंपियन जर्मनी की टीम रविवार को मैक्सिको की अनुभवी टीम के सामने जीत के साथ आगाज करने के इरादे के साथ उतरेगी।

मैनुअल न्युएर फिटनेस समस्याओं के कारण आठ महीने बाद जर्मन टीम में लौटे हैं। तुर्की मूल के मेसुत ओजिल और इल्के गुंडोगन को हाल ही में तुर्की के राष्ट्रपति के साथ फोटो खिंचवाने की वजह से जर्मन प्रशंसकों की हूटिंग झेलनी पड़ी थी। रीयल मैड्रिड के मिडफील्डर टोनी क्रूस ने तमाम विवादों को दरकिनार करते हुए कहा, ‘हम यहां फुटबॉल खेलने आए हैं। कोच जोआकिम लोव की टीम का फॉर्म हालांकि चिंता का सबब है। क्वालीफाइंग दौर के बाद उसने एकमात्र जीत सऊदी अरब के खिलाफ दर्ज की है।

डिफेंडर जेरोम बोएटेंग ने कहा, हमें उस आग की जरूरत है जो अभ्यास के दौरान नजर आई थी। एक टीम के रूप में हमें अच्छी शुरुआत करनी होगी। जर्मनी ने पिछले साल कंफेडरेशन कप में मैक्सिको को हराया था, लेकिन क्रूस ने कहा कि अब वह नतीजा मायने नहीं रखता। जर्मन टीम की नजरें 56 साल बाद पहली बार खिताब बरकरार रखने वाली टीम बनने पर है। ब्राजील ने 1962 में यह कारनामा किया था।

दूसरी ओर, मैक्सिको ने लगातार सात जीत दर्ज करके विश्व कप के लिए क्वालीफाई किया था। टूर्नामेंट के बाद संन्यास लेने जा रहे राफेल मार्केज पांच विश्व कप खेलने वाले हमवतन अंतोनियो कारबाजाल और जर्मनी के लोथार मथाउस के बाद तीसरे खिलाड़ी बन जाएंगे। मैक्सिको की टीम विश्व कप के लिए रवाना होने से पहले विवादों के घेरे में आ गई थी जब उसने 30 वेश्याओं के साथ पार्टी की थी। विश्व कप टीम के नौ सदस्य निजी परिसर में हुई उस पार्टी में मौजूद थे। उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई, लेकिन पिछले कुछ साल में मैक्सिको की टीम लगातार ऐसे विवादों से घिरी रही है।

दक्षिण अमेरिका की इस टीम ने अपने पिछले छह विश्व कप में हमेशा अंतिम-16 में प्रवेश किया है। उसे अगर जर्मनी को हराना है तो अपने खेल में तेजी लानी होगी। मैक्सिको का दारोमदार टीम के शीर्ष स्कोरर जेवियर हर्नांडेज पर होगा। कोच जुआन कार्लोस ओसोरियो ने दोस्ताना मैचों में अपने सभी पत्ते नहीं खोले थे, इसलिए यह कह पाना मुश्किल है कि वह किस रणनीति के साथ मैदान पर उतरेंगे।

आमने-सामने

मैच : 11

जर्मनी जीता : 06

मैक्सिको जीता : 01

ड्रॉ : 04

नंबर गेम :

-10 मैच खेले थे क्वालीफाइंग दौर में जर्मनी ने और सभी में जीत दर्ज की थी। इस दौरान उसने सिर्फ 10 गोल खाए थे।

-06 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं जर्मनी ने विश्व कप से पहले, उनमें उसे सिर्फ एक में जीत हासिल हुई है।