LIVE UPDATES: भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की हालत गंभीर,ठीक होने तक एम्स में रहने की संभावना

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी बुधवार को भी अस्पताल से डिस्चार्ज नहीं होंगे. पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की  हालत गंभीर बनी हुई है, मगर इन्फेक्शऩ अभी भी बरकरार है. यही वजह है कि अभी दो दिन और उनके एम्स में रहने की संभावना है. हालांकि, बताया जा रहा है कि यूरिन रात में और सुबह में भी पास हुआ है. अभी भी आईसीयू में रखा गया है. यह जानकारी एम्स सूत्रों ने दी है. बता दें कि एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में डॉक्टरों की एक टीम 93 वर्षीय नेता के स्वास्थ्य संबंधी परीक्षण कर रही है.

एम्स सूत्रों के मुताबिक, पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को इंजेक्टेबल एंटिबॉयोटिक्स पर रखा गया है. उम्मीद की जा रही थी कि आज उन्हें अस्पताल से छुट्टी मिल सकती है, मगर अब दो दिन और अटल जी को एम्स में रहना पड़ सकता है. खबर है कि बुधवार को करीब 12 बजे एम्स की ओर से हेल्थ बुलेटिन जारी हो सकता है.

इससे पहले भी एम्स ने प्रेस रिलीज जारी कर कहा कि संक्रमण ठीक होने तक उन्हें अस्पताल में ही रखा जाएगा. वहीं राहत वाली बात यह भी है कि उन पर दवाओं का अच्छा असर हो रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री का इलाज कर रहे एम्स के निदेशक डॉ रणदीप गुलेरिया तय करेंगे कि उनको कब डिस्चार्ज किया जाएगा. बता दें कि अटल बिहारी वाजपेयी को रूटीन चेकअप तथा जांच के लिए भर्ती कराया गया था.​

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन के कारण सोमवार को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया. अस्पताल की ओर से स्वास्थ्य बुलेटिन में कहा गया कि वाजपेयी को लोअर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन और किडनी संबंधी दिक्कतों के बाद भर्ती कराया गया है.

टिप्पणियां

अटल बिहारी वाजपेयी को देखने राहुल गांधी से लकर पीएम मोदी तक अस्पताल पहुंचे. उसके बाद नेताओं का सिलसिला ही लग गया. पीएम नरेंद्र मोदी भी वाजपेयी के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए एम्स पहुंचे. आधिकारिक बयान के अनुसार, मोदी ने डॉक्टरों से भेंट कर वाजपेयी के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी ली. मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री के परिवार के सदस्यों से भी भेंट की. बयान के अनुसार , प्रधानमंत्री करीब 50 मिनट तक अस्पताल में रुके.