शिवपुरी। 45 डिग्री तापमान के बीच पहले से ही जलसंकट से जूझ रही शहर की ढाई लाख आबादी की मुसीबत पिछले 55 घंटे से बंद पड़ी सिंध नदी की सप्लाई के चलते और अधिक विकराल हो गई है। मंगलवार की दोपहर दो बजे सिंध की सप्लाई बंद हुई थी।

दोशियान कंपनी से लेकर नगर पालिका के नुमाइंदे लगातार जल्द सप्लाई शुरू होने का आश्वासन तो देते रहे, लेकिन हालात यह रहे कि गुरुवार की देर शाम तक भी आपूर्ति बहाल नहीं हो सकी थी। 55 घंटे से सप्लाई बंद होने का व्यापक असर शहर के जलसंकट पर पड़ा है, क्योंकि इस अवधि में न तो हाईडैंट से छोटे व बड़े टैंकर भर पाए और न ही शहर के करीब 30 फीसदी हिस्से में ओवरहेड टैंक और संपवेल से होने वाली सप्लाई हो सकी।

इस पूरे मामले में लगातार सिंध की सप्लाई बंद होने को लेकर न तो नपा और न ही दोशियान कंपनी के अधिकारी माकूल जवाब दे पाए। सप्लाई बाधित होने को लेकर जहां लाइन बस्ट होने का कारण सामने आ रहा है। वहीं भुगतान को लेकर नपा और दोशियान के बीच चल रहे टकराव को भी कारण माना जा रहा है।

इंतजार में खड़े रहे देर रात तक टैंकर, वापस लौटे

सप्लाई को लेकर कुप्रबंधन और सटीक जानकारी के अभाव की नजीर पिछले 55 घंटों में लगातार सामने आई है। मंगलवार, बुधवार और गुरुवार को भी दिनभर सिंध के पानी आने की अलग-अलग डेडलाइन कंपनी और नपा के अधिकारी देते रहे।

बायपास व पुलिस कंट्रोल रूम स्थित हाइडेंट पर हालात यह बने कि बड़ी संख्या में पानी आने के इंतजार में छोटे बड़े टैंकर जा पहुंचे। इन्हें गुरुवार शाम 6 बजे पानी आने का आश्वासन दिया गया था, लेकिन जब रात 12 बजे तक भी पानी नहीं आया तो टैंकर चालक खाली टैंकर लेकर लौट आए।

जिनकी सप्लाई का था नंबर, चक्कर काट रहे टंकी के

लगातार सप्लाई बंद होने से सबसे ज्यादा प्रभावित शहर के गांधी कॉलोनी, शास्त्री नगर, विवेकानंद कॉलोनी, खुड़ा, आर्य समाज, चीलौद, शंकर कॉलोनी, महल कॉलोनी, पुलिस लाइन, करौंदी क्षेत्र के लोग हुए हैं। इन क्षेत्र में रहने वाले करीब 1 लाख लोगों की सप्लाई बाधित होने से वे ओवरहेड टैंक व संपवेल के चक्कर काटते रहे, लेकिन उन्हें भी कोई माकूल जबाव नहीं मिला। गांधी पार्क स्थित टंकी से गांधी कॉलोनी व विवेकानंद कॉलोनी की सप्लाई का टर्न था लेकिन इस 55 घंटे के अवरोध के चलते यहां सप्लाई हुए 10 दिन बीत गए हैं, जिससे हालात बेहद खराब हो गए हैं।

यह बोले प्रभारी सीएमओ

यह बात सही है कि मंगलवार दोपहर से सिंध की सप्लाई बंद पड़ी है। कंपनी के अधिकारी लाइन फूटने का हवाला दे रहे हैं। जल्द ही लाइन दुरुस्त करने के बाद आपूर्ति बहाल की जाएगी।

गोबिंद भार्गव, प्रभारी सीएमओ नपा

यह बोले कंपनी के अधिकारी

लाइन में लीकेज आ गया था। इसके कारण सप्लाई बंद कर दी थी। गुरुवार को लाइन ठीक कर ली है और पानी भी छोड़ा है। संभवत: देर रात तक शहर में पानी पहुंच जाएगा।

देवेन्द्र विजयवर्गीय, अधिकारी दोशियान कंपनी।