राज्यमंत्री संजय पाठक ने राहुल गांधी के दौरे को बताया नाटक, कहा- घड़ियाली आंसू प्रदेश के किसान पहचानते हैं

भोपाल । राहुल गांधी के मध्यप्रदेश केे मंदसौर दौरे पर प्रदेश के सूक्ष्म लघु उद्दोग राज्यमंत्री (स्वतन्त्र प्रभार) संजय सत्येन्द्र पाठक ने अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा कि किसानों के लिए राहुल गांधी के आँसू घड़ियाली हैं। कांग्रेस की सत्ता में बिजली, पानी और खाद को लेकर किसान रोज परेशान रहते थे। कांग्रेस ने इस देश मे लम्बे समय तक राज किया किसान के लिए उसकी एक भी योजना ऐसी नहीं जिससे श्री गांधी या कोई भी कांग्रेस नेता आज किसान के सामने मुंह दिखाने लायक हो।

संजय पाठक ने कहा कि खाद के लिए किसान लाठी डंडे खाते थे, बिजली न होने से खड़ी फसलें सूख जातीं थीं समर्थन मूल्य से किसान बीज का भी पैसा नहीं निकाल पाते थे। क्या राहुल गांधी ये सब भूल गए, या फिर अपनी 60 साल की भूल का पश्चाताप करने किसानों के हमदर्द बन बैठे। श्री पाठक ने कहा कि मध्यप्रदेश को तीन तीन बार कृषि कर्मण अवार्ड मिला और कांग्रेस की सरकार ने भी मध्यप्रदेश की किसान हितैषी योजनाओं को सराहा। पांच वर्ष पहले राहुल गांधी और कांग्रेस को किसानों की याद नहीं आई आज किसानों के नाम पर कांग्रेस की राजनीति हास्यास्पद है। चुंनाव के पहले इस तरह की राजनीति के नाटक को जनता भली भांति जानती है।

राज्यमंत्री श्री पाठक ने कहा प्रदेश के यशश्वी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसान के बेटे हैं उन्हें हर किसान का दर्द, तकलीफ भली भांति मालूम हैं लिहाजा राहुल गांधी किसान के दर्द को महसूस करने का नाटक न करें । मध्यप्रदेश की जनता और किसान केंद्र औऱ राज्य सरकार की जन हितेषी योजनाओं का लाभ ले रहे हैं अतः राहुल क्या कोई भी कांग्रेस नेता उन्हें बरगलाने की कोशिश नहीं कर सकता।

कांग्रेस की गुटबाजी पर तंज कसते श्री पाठक ने कहा कि फिलहाल तो राहुल गांधी प्रदेश कांग्रेस में उठे विद्रोह को सम्भालने की कोशिश करें, वरना आने वाले चुंनाव में कांग्रेस इतिहास बन कर रह जायेगी।

राज्यमंत्री श्री पाठक ने कहा कि क्षेत्रीय दलों के आगे नतमस्तक कांग्रेस अध्यक्ष पार्टी का उद्धार घड़ियाली आंसू बहा कर न करें बल्कि धरातल पर काम करें।

प्रदेश का किसान कांग्रेस के शासन और भाजपा शासन की तुलना पहले ही कर चुका है। अब राहुल ही क्या पूरी कांग्रेस भी मध्यप्रदेश और देश मे किसानों को दिग्भर्मित नहीं कर सकती।

Hide Related Posts