Advertisements

समस्याओं को लेकर अभाविप का कालेज गेट पर प्रदर्शन

कटनी। कॉलेज में समस्याओं को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद द्वारा प्रदर्शन किया जा रहा है। शहर के कन्या महाविद्यालय एवं अग्रणी महाविद्यालय तिलक कॉलेज में आज सुबह से प्रदर्शन किया गया। भरी धूप अभाविप के कार्यकर्ताओं ने कालेज गेट के समक्ष जोरदार प्रदर्शन किया।

रिक्त पदों की पूर्ति, स्थाई प्राचार्य की नियुक्ति, प्रवेश नियमों में शिथिलता सहित आधा दर्जन मांगों को लेकर आंदोलन

अभाविप का यह प्रदर्शन प्रदेश के विश्वविद्यालयों के रिक्त पदों की पूर्ति सहित कई मांग को लेकर किया। अभाविप नेताओं का कहना था कि प्रदेश के सभी विश्वविद्यालय में मूल्यांकन की एक स्थाई समिति बनाई जाए, इसके अलावा प्रवेश प्रक्रिया को सरल बनाए जाने की मांग भी शामिल थी।

अभाविप के अनुसार हाल ही में उच्च शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर 2018-19 प्रवेश मार्गदर्शी निर्देश दिए गए हैं, उसमें छात्र में एक बार प्रवेश देने के बाद उनकी शुल्क वापस नहीं होगी जबकि छात्र का प्रवेश परीक्षा के माध्यम से किसी अन्य महाविद्यालय में होता है तो उसे पूर्ण फीस वापस होनी चाहिए, जो पूर्व में नियम था वही लागू किया जाए।

एक अन्य मांग के अनुसार प्रदेश के सभी शासकीय महाविद्यालयों में स्थाई प्राचार्य की नियुक्ति की जाए तथा सभी विश्वविद्यालयों में स्थाई खेल निर्देशिका की निर्देशकों की नियुक्ति की जाए। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के नगर मंत्री अनुनय शुक्ला ने बताया कि 21 सितंबर को प्रदेशव्यापी आंदोलन के समय मांग पत्र में यह दर्शाया था परंतु सरकार द्वारा अब तक कोई निर्णय नहीं लिया गया, इसलिए छात्रों को आंदोलन के लिए बाध्य होना पड़ा।

अभाविप ने कहा कि मध्यप्रदेश में विश्वविद्यालय परीक्षा संचालित करने के मात्र केंद्र बनकर रह गए हैं, विश्वविद्यालय के मूल्यांकन में पारदर्शिता, न्यायिक एवं स्पष्टता का अत्यंत अभाव है। एक तरफ तो सरकार अच्छी और गुणवत्तायुक्त शिक्षा की बात करती है वहीं दूसरी ओर देखने में आता है कि विश्वविद्यालय में शैक्षणिक और गैर शैक्षणिक स्टाफ की कमी से विश्वविद्यालय में समय पर वार्षिक कैलेंडर का पालन या प्रवेश परीक्षा और परिणाम कभी समय पर घोषित नहीं किया जाता है जिससे विद्यार्थियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। महिला महाविद्यालय में इस प्रदर्शन के दौरान सुषमा रघुवंशी, प्रियंका शुक्ला, पुष्पा रघुवंशी, ज्योति, प्रियंका डायर, शिवांकु द्विवेदी, सोनल बाधवा आदि मौजूद थे।