उमरिया में हादसा: पानी के लिये खोद रहे सुरंग की मिट्टी में दबकर 3 की मौत

Advertisements

उमरिया। थाना कोतवाली अंतर्गत ग्राम सरसवाही मैं शाम 6:00 से 7:00 बजे के बीच कुएं की मिट्टी धसक जाने से उसके अंदर काम कर रहे तीन युवकों की दब जाने से मौत हो गई। एक युवक की मौत घटनास्थल पर ही हो गई थी जबकि बाकी दो युवकों की मौत अस्पताल लाने के बाद हुई ।

मृतकों में मुन्ना विश्वकर्मा पिता पप्पू विश्वकर्मा उम्र 35 साल, विनोद विश्वकर्मा पिता पप्पू विश्वकर्मा उम्र 35 साल तथ राजाराम विश्वकर्मा पिता नत्थू विश्वकर्मा उम्र 33 साल शामिल है। इस घटना के बाद ग्राम सरसवाही में सनसनी का माहौल है ।

पानी के लिए दी जान

इसे भी पढ़ें-  Gwalior adulteration free campaign: लैब में फेल हुए सैंपल, पांच प्रतिष्ठानाें के संचालकाें पर कराई FIR

जानकारी के मुताबिक गांव की चक्की मोहल्ला में स्थित कुआं पूरी तरह से सूख गया था । इस कुएं में पानी लाने के लिए कुएं के अंदर से पास के नाले तक तीनों युवक सुरंग खोद रहे थे और इसी दौरान कुएं की मिट्टी धसक गई जिससे तीनों युवक मिट्टी के नीचे दब गए।

2 को निकाला गया

दो युवकों को घटना के 1 घंटे के अंदर निकाल लिया गया और उन्हें जिला अस्पताल पहुंचा दिया गया लेकिन जिला अस्पताल पहुंचते ही दोनों युवकों ने दम तोड़ दिया वहीं दूसरी तरफ जिस तीसरे युवक को मिट्टी के नीचे से निकाला गया था उसने भी वहीं दम तोड़ दिया था। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। देर शाम घटित घटना को लेकर ग्रामीणों में सनसनी फैल गई है।

इसे भी पढ़ें-  Guest Teachers Payment: अतिथि शिक्षकों के लिए खुशखबरी, मिला यह आदेश

सुबह होगा पोस्टमार्टम

रात हो जाने की वजह से सब को पोस्टमार्टम नहीं किया गया और सुबह जल्दी पोस्टमार्टम करने के बाद मृतकों के परिजनों को शव सौपने की बात अस्पताल प्रबंधन ने कही है ।

कलेक्टर ने जताई संवेदना

कलेक्टर माल सिंह ने इस घटना पर संवेदना व्यक्त की है और कहा है कि मृतकों के परिजनों को सहायता प्रदान की जाएगी साथ ही इस तरह की परिस्थितियों में दिए जाने वाला मुआवजा भी उन्हें प्रदान किया जाएगा । पुलिस अधीक्षक डॉक्‍टर असित यादव ने बताया कि शव को परीक्षण के लिए अस्पताल में रखा गया है और पोस्टमार्टम के बाद उसे परिजनों को सौंप दिया जाएगा ।

Advertisements