Advertisements

मध्यप्रदेश में 10 प्रतिशत बढ़ाया बसों का किराया, हड़ताल वापस

भोपाल। राज्य सरकार ने रविवार को सार्वजनिक वाहनों (सभी प्रकार की अंतरराज्जीय यात्री बसों) के यात्री किराए में 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया है। बढ़े हुए किराए की अधिसूचना जल्द ही राजपत्र में प्रकाशित की जाएगी। जिसके बाद से यात्रियों को बढ़ा हुआ किराया देना पड़ेगा।

यह जानकारी परिवहन विभाग के उप सचिव कमल नागर ने रविवार को दी। इस निर्णय के बाद अब भोपाल के बस मालिकों ने सोमवार को की जाने वाली हड़ताल स्थगित कर दी है। वहीं, इंदौर समेत खंडवा, खरगौन और आसपास के जिलों में बस मालिक सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे।

इन जिलों के बस मालिकों की मांग है कि 10 प्रतिशत की बजाय 40 प्रतिशत तक यात्री किराया बढ़ाया जाना चाहिए। गौरतलब है कि फरवरी में किराया निर्धारण बोर्ड की बैठक हुई थी, जिसमें बस मालिकों ने 40 प्रतिशत किराया बढ़ाने का प्रस्ताव रखा था। जिस पर विचार करते हुए राज्य सरकार ने सभी प्रकार की यात्री बसों का किराया 10 प्रतिशत तक बढ़ाए जाने का निर्णय लिया है।

बता दें कि बसों को 10 प्रतिशत किराया बढ़ने से यात्रियों को अब भोपाल से इंदौर, सागर, जबलपुर, बैतूल, छिंदवाड़ा, छतरपुर, शिवपुरी, ग्वालियर समेत प्रदेश के अन्य शहरों में यात्रा करना महंगा पड़ेगा। बढ़ा हुआ किराया सामान्य, डीलक्स और एसी सहित सभी प्रकार की यात्री बसों में देना होगा।

2014 में भी बढ़ाया गया था 15 फीसदी किराया

राज्य सरकार ने साल 2014 में भी 15 प्रतिशत तक यात्री बसों का किराया बढ़ाया था। हालांकि कुछ दिनों बाद डीजल के दाम कम होने पर 5 पैसे प्रति किलोमीटर किराया कम भी कर दिया गया था।

अभी 92 पैसे प्रति किमी के हिसाब से लगता है किराया

वर्तमान में यात्री बसों का किराया 92 पैसे प्रति किलोमीटर के हिसाब से लिए जा रहा है। जिसमें 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जा रही है। यानि अगर भोपाल से इंदौर का सामान्य बस का किराया 180 रुपए है तो इसमें 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी होने के बाद अब 198 रुपए लगेंगे।

अब इतना देना होगा किराया (सामान्य यात्री बस)

इंदौर का वर्तमान किराया-180 स्र्पए

बढ़ा हुआ किराया-198

भोपाल से सागर व बैतूल-180

बढ़ा हुआ-198

भोपाल से सीहोर-34

बढ़ा हुआ किराया-38

भोपाल से जबलपुर-300

बढ़ा हुआ-330