लैंड करने वालों को नहीं, केवल कांग्रेसी विचारधारा वालों को ही टिकट : राहुल

भिलाई। मैं कांग्रेस का प्रेसीडेंट हूं, मेरा काम कांग्रेस पार्टी की विचारधारा को देश में फैलाने का है, इसके लिए कार्यकर्ता जरूरी हैं। मैं भी कांग्रेस कार्यकर्ता हूं। स्टेज पर मौजूद सभी नेता भी कार्यकर्ता हैं। मेरा काम आपकी रक्षा करना है, न्याय दिलवाना है।

यह शब्द हैं कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के। राहुल शुक्रवार को दुर्ग के रविशंकर स्टेडियम में बूथ लेवल कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद कर रहे थे। संवाद की शुरुआत करते हुए राहुल ने कहा- कांग्रेस की सरकार आती है, लेकिन सरकार में कार्यकर्ता की सुनवाई नहीं होती।

कार्यकर्ता से पूछे बिना टिकट दिया जाता है, लोग चुनाव से पहले टिकट के चक्कर में दूसरी पार्टी छोड़कर 15-20 दिन पहले आते हैं और दावेदारी करते हैं, अब ऐसा नहीं चलेगा। अब कांग्रेस के विचारधारा के लोगों को टिकट मिलेगी, हेलीकाप्टर से उड़कर आने वालों को नहीं।

कार्यकर्ताओं से पूछकर, उनकी आवाज सुनकर टिकट दी जाएगी ताकि छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बन सके। इसके लिए कार्यकर्ताओं को पोलिंग बूथ की रक्षा करनी होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी एक परिवार है। जो भी नेता चाहे वह कितना भी सीनियर हो उसे कार्यकर्ताओं का आदर करना पड़ेगा ऐसा नहीं करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी मैं एक्शन लूंगा।

मैं सेना का जवान, भाजपा से सब परेशान

संवाद के आखिरी में खुद को इंडियन आर्मी का जवान बताते हुए एक शख्स खड़ा हुआ। बोला- परिवार के सदस्य कांग्रेस से जुड़े हुए हैं। अपना नाम खिलेश्वर साहू बताते हुए कहा कि भाजपा सरकार से हर कोई परेशान है। मैं खुद कुपवाड़ा में पदस्थ हूं। वहां जवानों की स्थिति बहुत खराब है। भाजपा सरकार के आने के बाद जवानों के ऊपर हमला हो रहा है, उनकी हत्याएं हो रही हैं। आप प्रधानमंत्री बनें और इससे राहत दिलाएं। इस पर राहुल ने किसी भी तरह का जवाब नहीं दिया।

संवाद कार्यक्रम में हुए सवाल जिसका राहुल ने दिया जवाब

– वैभव प्रसाद, कबीरधाम पंडरिया-ईवीएम के बजाए पुरानी पद्धति से चुनाव होना चाहिए। इसे लेकर आप क्या सोचते हैं?

– राहुल- काफी लोगों को लगता है ईवीएम में बदलाव आना चाहिए। बैलेट पेपर से चुनाव की मांग उठ रही है। अभी आपने कर्नाटक में देखा, लेकिन यहां मामला उससे भी गंभीर है। सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने कहा कि हमें न्याय नहीं मिल रहा है। वे न्याय मांगने जनता के सामने आ रहे हैं। कर्नाटक में बीजेपी को सरकार बनाने बुला लिया गया, लेकिन गोवा और मणिपुर सहित अन्य स्थानों पर कांग्रेस को अवसर नहीं दिया गया। सरकार पर आरएसएस का दबाव है। एससी (सुप्रीम कोर्ट) हो, विधानसभा हो या प्लानिंग कमीशन हो… सभी दबाव में हैं। यह विचारधारा की लड़ाई है।

– सुभद्रा सिंह, भिलाई-नए वोटरों का नाम जुड़वाने अभियान चलाया जाना चाहिए। पिछले चुनाव में बीजेपी के लोगों ने तीन हजार वोटरों का नाम कटवा दिया था। इसका असर भी परिणाम पर पड़ा।

– राहुल-आपका क्षेत्र का बूथ नंबर क्या है। आपको पता है आरएसएस में महिलाएं क्यों नहीं है। इस पर सुभद्रा सिंह ने कहा कि भाजपा महिलाओं को आगे नहीं बढ़ना देना चाहती। महिलाएं पिछड़ी रहें। इस पर राहुल ने फिर सवाल किया कि एक सीट में एक ही व्यक्ति को टिकट मिलती है, लेकिन दावेदार तीन-चार रहते हैं। ऐसी सूरत में क्या करना चाहिए। इस पर सुभद्रा सिंह ने कहा कि ऐसे लोगों को मनाना चाहिए। राहुल ने फिर सवाल करते हुए कहा कि टिकट वितरण कब तक होना चाहिए। इस पर सुभद्रा सिंह ने कहा कि दो-तीन महीने पहले। फिर राहुल गांधी ने कहा कि इस बार 15 अगस्त तक छत्तीसगढ़ की 90 प्रतिशत सीटों पर टिकट वितरण कर दिया जाएगा।

– राजीव शुक्ला, साजा-टिकट वितरण के लिए क्या मापदण्ड है। आम आदमी के बजाए ऊपर से नाम आने पर टिकट ही दिया जाता है।

– राहुल- इस बार सबसे पूछकर, आपस में रायशुमारी कर टिकट दिया जाएगा।

– वीरेन्द्र साहू, नवागढ़- पिछले विस चुनाव में पहले चरण में जिन 35 सीटों पर नामों की घोषणा की गई थी, उनमें अधिकांश में जीत मिली। लेकिन दूसरे चरण में सिर्फ 10 से 12 सीट जीत पाए, क्या सेटिंग हो गई थी।

राहुल – निर्णय लेने में विलंब हो गया था, इस बार 90 प्रतिशत सीटों पर टिकट की घोषणा 15 अगस्त तक कर दी जाएगी।

– रामशंकर साहू, अमलेश्वर- पंचायती राज में किसान मजदूर परेशान हैं। संकल्प पत्र तैयार करते समय इनका ध्यान क्यों नहीं रखा जाता।

राहुल- इस बार छत्तीसगढ़ की जनता से पूछकर मेनीफेस्टो तैयार किया जाएगा।

– आरती सेन, भानुप्रतापपुर- महिलाओं को भी 50 प्रतिशत टिकट मिलना चाहिए।

राहुल- यहां 50 प्रतिशत महिलाएं दिखाई नहीं दे रही हैं।

– हामीद खोखर, दुर्ग- कांग्रेस में काबिल लोगों को टिकट नहीं दी जाती। पिछले निगम चुनाव में मेरा टिकट कुछ लोगों के कहने पर काट दिया गया।

राहुल-सुनने के बाद आगे निकल गए।

– दिनेश कुमार, गुण्डरदेही-आपकी शादी को लेकर लोगों में उत्सुकता बनी है। शादी कब करेंगे।

– राहुल- जवाब दिन बिना आगे बढ़ गए।

– गीतेश कुमार, संजारी बालोद- जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को टिकट नहीं दिया जाता। संगठन में संवाद की स्थिति भी नहीं है।

– राहुल- इस बार सबकी रायशुमारी से टिकट दिया जाएगा।

– राधा, रायपुर- चेट्रीचंड पर छुट्टी घोषित नहीं किए जाने से लोग भाजपा से नाराज हैं। भाजपा ने समाज के वरिष्ठ नेता आडवानी को भी किनारे लगा दिया है।

– राहुल-सुनकर आगे बढ़ गए।

– संगीता, डौंडीलोहारा- प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने पर पूर्णतः शराब बंदी होगी?

– राहुल- इस पर राहुल गांधी ने पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल से पूछा। पीसीसी अध्यक्ष ने कहा कि दुर्ग संभाग में आयोजित कांग्रेस के टेडेसरा शिविर में इस संबंध में संकल्प पारित किया गया है।

– भिलाई के कार्यकर्ता- भिलाई को जिला कांग्रेस कमेटी का दर्जा कब मिलेगा। इसकी मांग 25 साल से उठ रही है।

– राहुल-इस पर राहुल ने पीसीसी चीफ की ओर देखा। पीसीसी चीफ ने बताया कि मामले में कार्रवाई चल रही है। छत्तीसगढ़ प्रभारी पीएल पुनिया एप्रूवल कर एआईसीसी को भेज चुके हैं।

Hide Related Posts