खेत में करंट लगने से ही हुई अशोक की मौत

Advertisements

कटनी। कैमोर थाना अंतर्गत ग्राम धवैया में फसल की सुरक्षा के लिए खेत की बाड़ में बिछाए गए करंट की चपेट में एक युवक सहित बैल की मौत के मामले में फरार खेत मालिक व उसके पुत्रों की गिरफ्तारी अब तक नहीं हो सकी है। पुलिस आरोपियों के हर संभावित स्थानों पर दबिश देकर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास कर रही है। गौरतलब है कि ग्राम धवैया निवासी 45 वर्षीय अशोक लोधी खेत से अपने मवेशियों को लेकर 9 अक्टूबर की शाम लगभग साढ़े सात बजे घर लौट रहा था। इसी दौरान वह नरेन्द्र लोधी के खेत से गुजरते समय मवेशियों से फसल को बचाने के लिए बिछाए बिजली की तार में चपेट में आ गया। करंट लगने के कारण उसकी तथा एक बैल की मौत हो गई। घटना की जानकारी नरेन्द्र लोधी को लगी तो उसने अपने बेटे प्रवीण लोधी और मुकेश लोधी के साथ मिलकर अशोक की लाश को चादर में लपेटकर झाड़ियों में छिपा दिया। रात लगभग 9 बजे तक अशोक लोधी के घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने रात में अशोक की तलाश खेत के आस-पास शुरू की। जहां पर झाड़ियों के पास चादर में लिपटी हुई लाश मिल गई। इस बीच मृतक के परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कैमोर-भटूरा मार्ग पर चकाजाम कर दिया। परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के अलावा मुआवजे की भी मांग कर रहे थे। पुलिस अधिकारियों की समझाइश के बाद परिजन शांत हुए और चकाजाम समाप्त हुआ। जिसके बाद पुलिस ने शवपरीक्षण कराते हुए आरोपियों के विरूद्ध संबंधित धाराओ के तहत मामला दर्ज कर उनकी गिरफ्तारी के लिए गांव पहुंची लेकिन अपने विरूद्ध मामला दर्ज होने की जानकारी लगते ही आरोपी मकान में ताला लगाकर फरार हो गए। कैमोर थाना प्रभारी राजेश तिवारी के मुताबिक आरोपियों को गिरफ्त में लेने के हरसंभव प्रयास किए जा रहे हैं।

Advertisements