आज का गुडलक- कार्तिक माह के बुधवार मिलेगा तेज बुद्धि का वरदान

Advertisements

[wdps id=”1″]आज बुधवार दी॰ 11.10.17 को कार्तिक कृष्ण षष्ठी पर गणेश पूजन करना श्रेष्ठ रहेगा। गणेश बुध ग्रह के देवता माने जाते हैं। ज्योतिष शास्त्रनुसार कुंडली में बुध व देवों में गणपती ही बुद्धि के कारक माने गए हैं। ऐसे में बुध ग्रह की अशुभता में सुधार हेतु गणपति पूजन विशेष सफलता देता है। इस दिन बुध ग्रह के नियमित भी पूजन होता है। गणेश को शोक नाशक, गुण नायक, अज्ञान नाशी व गजमुख कहा जाता है। गणेश शुभ-लाभ के प्रतीक व रिद्धि सिद्धि के स्वामी हैं। समस्त देवों में मात्र गणेश ही अग्र पूजा के अधिकारी हैं। गणपति शुभता के प्रतीक हैं। किसी भी काम की शुरुआत को “श्रीगणेश” ही कहते है।

स्पष्ट है कि बिना बुद्धि के कोई काम करेंगे, तो वह असफल हो जाएगा अर्थात काम में बुद्धि और विवेक को प्राथमिकता देकर ही सफलता मिलती है। शास्त्रनुसार कार्तिक माह के बुधवार पर गणेश पूजन व उपाय से प्रखर बुद्धि व सुख-सफलता की प्राप्ति होती है, मंदबुद्धि भी बुद्धिवान बनते हैं। नासमझ बच्चों को अकल आती है तथा अज्ञानी भी ज्ञानी बन जाते हैं। 

विशेष पूजन विधि: गणपती का विधिवत पूजन करें। कांसे के दिए में गौघृत का दीपक जलाएं, सुगंधित धूप करें, पालक का पत्ता चढ़ाएं। गोलोचन चढ़ाएं। इलायची का भोग लगाएं तथा इस विशेष मंत्र से 1 माला जाप करें। पूजन के बाद इलायची का सेवन करें।

पूजन मुहूर्त: रात 20:05 से रात 21:05 तक।

पूजन मंत्र: बुं बुद्धिप्रियाय बीजापूरकराय नमः॥

आज का शुशाशुभ

आज का अभिजीत मुहूर्त: बुधवार पर अभिजीत नहीं होता है।

आज का अमृत काल: रात 00:34 से रात 01:05 तक।

आज का राहु काल: दिन 12:07 से दिन 13:33 तक।

आज का गुलिक काल: प्रातः 10:41 से दिन 12:07 तक।

आज का यमगंड काल: प्रातः 07:49 से प्रातः 09:15 तक।

यात्रा मुहूर्त: आज दिशाशूल उत्तर व राहुकाल वास दक्षिण-पश्चिम में है। अतः उत्तर व दक्षिण-पश्चिम दिशा की यात्रा टालें।

विशेष वर्जित मुहूर्त: आज स्वर्ग वासनी भद्रा रहेगी प्रातः 09:09 बजे से रात 20:00 बजे तक। इस दौरान सभी शुभ कार्य वर्जित हैं।

आज का गुडलक ज्ञान

आज का गुडलक कलर: हल्का हारा।

आज का गुडलक दिशा: पूर्व।

आज का गुडलक मंत्र: ॐ अकल्मषाय नमः॥

आज का गुडलक टाइम: प्रातः 08:05 से प्रातः 09:05 तक।

आज का बर्थडे गुडलक: बुद्धिबल में वृद्धि के लिए गणपती पर चढ़े गोलोचन से मस्तक पर तिलक करें।

आज का एनिवर्सरी गुडलक: बच्चों के मानसिक विकास हेतु दंपत्ति गणेश जी पर चढ़े पिस्ते संतान को खिलाएं।

गुडलक महागुरु का महा टोटका: सफलता हेतु गणपती पर चढ़े साबुत मूंग हरे कपड़े में बांधकर घर की उत्तर दिशा में रखें।

आज के गुडलक में बस इतना ही। कल गुडलक में आपसे फिर मुलाकात होगी और हम आपको बताएंगे कैसे महादेवी अहोई अष्टमी पर संतान की करें सुरक्षा।

Advertisements