प्रदेश में डिप्टी सीएम की नियुक्ति का बाजार गर्म, प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने किया चर्चाओं को खारिज

Advertisements

राजनीतिक डेस्क। मध्य प्रदेश के राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा जोरों पर है कि राज्य में किसी व्यक्ति की उपमुख्यमंत्री पद पर नियुक्ति हो सकती है. शिवराज सिंह चौहान के बयान, ‘अब मैं तो जा रहा हूं, मुख्यमंत्री की कुर्सी पर कोई भी बैठ सकता है’, ने अटकलों को हवा दे दी है. माना जा रहा है कि अमित शाह के शुक्रवार को प्रस्तावित दौरे के बाद राज्य में बड़ा सियासी बदलाव हो सकता है.

वहीं, अमित शाह के दौरे की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने राकेश सिंह भी इस मामले में  बहुत ज्यादा सफाई नहीं दी उन्होंने कहा कि आनंद में की गई बात को अगर कोई गलत ढ़ंग से प्रस्तुत करता है तो इसे गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए. राज्य में उपमुख्यमंत्री की नियुक्ति की खबरों को भी उन्होंने सिरे से खारिज कर दिया.

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: आज मिले 39 पॉजिटिव केस, रविवार को 326 लोगों के लिए गए थे सेम्पल

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दिल्ली दौरे के बाद राज्य में सियासी समीकरण तेजी से बदलते हुए नजर आ रहे हैं. राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि भाजपा हाईकमान राज्य में उपमुख्यमंत्री पद पर किसी नेता की ताजपोशी का मूड बना चुका है.

दरअसल, राजधानी में आनंद व्याख्यान में मुख्यमंत्री के बयान ने राज्य की सियासत को गर्मा दिया है. मुख्यमंत्री ने दिल्ली से लौटने के बाद गुरुवार सुबह कहा, ‘दुनिया में कुछ भी परमानेंट नहीं है. मैं तो जा रहा हूं. कुर्सी ख़ाली है. कुर्सी पर कोई भी बैठ सकता है.’

मुख्यमंत्री के इस बयान ने राज्य में सियासी बदलाव की अटकलों को हवा दे दी, जिनमें अनुमान लगाया जा रहा है कि भाजपा राज्य में उपमुख्यमंत्री को नियुक्त कर सकती है.

इसे भी पढ़ें-  कटनी कोरोना अपडेट: आज मिले 39 पॉजिटिव केस, रविवार को 326 लोगों के लिए गए थे सेम्पल

राजनीतिक गलियारों में बदलाव की खबरें तेजी से फैलना शुरू हुई तो मुख्यमंत्री को ट्वीट कर सफाई देनी पड़ी. मुख्यमंत्री ने लिखा, ‘कार्यक्रम में मेरे लिए आरक्षित रखी गयी कुर्सी को ले कर थोड़ा सा मज़ाक़ क्या कर लिया, कुछ मित्र अत्यंत आनंदित हो गए! चलो, मेरा आनंद व्याख्यान में जाना सफल हो गया.’

Advertisements