कोसी नदी में नाव पलटी, आठ लोगों की मौत

भागलपुर। रविवार को बिहार के भागलपुर में एक बड़ा हादसा हुआ है। कोसी नदी में नाव पलटने से आठ लोगों की मौत हो गई। वहीं, सात को सुरक्षित पानी से बाहर निकाल लिया गया।

जानकारी के अनुसार, भागलपुर जिले के नवगछिया थाना क्षेत्र के रामनगर बीन टोली के 15 लोग पूर्णिया जिला के सात भैया बीनटोली में शादी का भोज खाने गए थे। भोज खाकर सभी लौटने वक्‍त मछली मारने वाली एक छोटी सी नाव में सवार हो गए। ओवरलोड होने की वजह से नाव रामनगर बीनटोली किनारे नाव डूब गई।

नाव को डूबते देख किनारे पर खड़े ग्रामीणों ने सभी को बचाने की कोशिश की। लेकिन वे सिर्फ सात लोगों को ही पानी से बाहर ला पाये। वहीं, आठ की पानी में डूबने से मौत हो गई। घटना की सूचना के बाद नवगछिया थाना की पुलिस मौके पर पहुंच चुकी है। एनडीआरएफ की टीम भी मौजूद है।

घटना की सूचना पर पुलिस और एसडीआरएफ की टीम घटनास्थल पहुंच गई है। लापता लोगों की खोज जारी है। घटना से पूरे इलाके में कोहराम मच गया है। लापता लोगों में लक्ष्मण महतो, राजू, सोनी कुमारी, खुशबू कुमारी, निलेश कुमार, गुंजा कुमारी, रीता कुमारी सहित एक अन्य शामिल हैं। हादसे में भिखारी महतो, अमृत कुमार, सीता देवी, विद्या देवी, अंकुश कुमार सहित दो अन्य को बचा लिया गया। इन सभी को इलाज के लिए नवगछिया अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मुंगेर के चंडी स्थान में हुई थी भिखारी महतो की शादी

पूर्णिया जिले के मोहनपुर ओपी क्षेत्र स्थित टोपिया बिंदटोली निवासी भिखारी महतो की 27 अप्रैल को शादी थी, जिसमें शरीक होने के लिए नवगछिया के रामनगर बिंदटोली से उसके परिवार वाले पहुंचे थे। शादी मुंगेर जिले के चंडी स्थान में हुई थी। वहां से सभी 28 अप्रैल को टोपिया बिंदटोली लौटे। 29 अप्रैल की शाम वहां से सभी लोग रामनगर बिंदटोली वापस आ रहे थे। साथ में दूल्हा भिखारी महतो भी था।

ये लोग मछली मारने वाले छोटी-सी नौका पर सवार थे। गांव के समीप ही अचानक नौका अनियंत्रित होकर पलट गई। नौका सवार सभी लोग नदी में डूब गए। आसपास के ग्रामीणों ने सात लोगों को नदी से सुरक्षित निकाल लिया। बाकी लापता आठ लोगों की तलाश कोसी नदी में की जा रही है।