हरे माधव से गुंजायमान हुआ माधवनगर

कटनी। सतगुरू बाबा माधवशाह, बाबा नारायण शाह का दो दिवसीय बर्सी महोत्सव आज से शुरू हो गया। बर्सी महोत्सव का शुभारंभ भव्य शोभायात्रा के साथ हुआ। सुबह 8 बजे बाबा माधवशाह दरबार से बैण्डबाजों की करतल ध्वनि के बीच शुरू हुई भव्य शोभायात्रा विभिन्न मार्गों से होती हुई हरे माधव दरबार स्थित भव्य शाही पंडाल में पहुंची, जहां सतगुरू साहबान को विराजमान किया गया। इसी के साथ दो दिवसीय बर्सी महोत्सव का आगाज हो गया। बरसी महोत्सव में शामिल होकर पुण्यलाभ अर्जित करने कटनी ही नहीं पूरे देश से हजारों की तादात में श्रद्धालु कटनी पहुंचे हैं, जिनके रूकने की व्यवस्था माधवनगर की विभिन्न धर्मशालाओं में की गई है। प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी उपनगरीय क्षेत्र माधवनगर में बाबा माधवशाह, बाबा नारायण शाह का दो दिवसीय बर्सी महोत्सव 9 और 10 अक्टूबर को आयोजित किया गया है। आज से कल तक पूरा माधवनगर बाबा की भक्ति में लीन रहेगा। बर्सी महोत्सव में शामिल होकर बाबा ईश्वरशाह के दर्शनकर आर्शीवाद प्राप्त करने कटनी ही नहीं वरन पूरे देश से हजारों की संख्या में श्रद्घालु माधवनगर पहुंचे हैं। माधवनगर स्टेशन में आधा दर्जन गाड़ियों का स्टापेज दिया गया है। कटनी और माधवनगर स्टेशन में आने वाले श्रद्धालुओं को बरसी मेला स्थल तक पहुंचाने के लिए बसों की व्यवस्था की गई है।
बाबा ईश्वरशाह के सानिध्य में निकली शोभायात्रा
बाबा ईश्वरशाह जी के सानिध्य में आयोजित बर्सी मेले में देश के कोने-कोने से आए श्रद्घालुओं ने बाबा के दरबार में हाजिरी लगाई। आज प्रातः सतगुरू साहब की भव्य शोभायात्रा निकाली गई। शोभायात्रा में सबसे आगे सिन्धु नौजवान मंडल के सेवादारों ने डांडिया नृत्य करते हुए हरे माधव के जयकारे लगाए गए। महोत्सव के दोनों दिन विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं। बाहर से आई कीर्तन और भजन मण्डलियां लोगों को भक्ति के सागर में गोते लगवा रही हैं। बर्सी मेले के इस सालाना जलसे के चलते समूचा माधवनगर दुल्हन सा सज गया है। सामाजिक संस्थाएं कर रहीं सहयोग
मेले के मद्देनजर पुलिस और प्रशासन ने पुख्ता प्रबंध किए हैं। आधा सैकड़ा से अधिक पुलिस कर्मियों को मेला स्थल पर तैनात किया गया है। विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाएं सेवाकार्यों में जुटी हुई हैं। रेल्वे स्टेशन तथा बस स्टैण्ड पर बाहर से आने वाले भक्तों को मेला स्थल तक ले जाने की व्यवस्था की गई है। माधवनगर में सुबह से ही धार्मिक कार्यक्रमों का सिलसिला प्रारंभ हो गया। दोनो दिन सायं 6 बजे से हरे माधव आध्यात्मिक सत्संग के कार्यक्रम आयोजित होंगे।

ननि ने की व्यवस्थाएं
बर्सी महोत्सव को लेकर पिछले एक पखवाड़े से तैयारियां चल रही थी। जिला प्रशासन द्वारा जहां कार्यपालिक मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं तो वहीं पुलिस प्रशासन द्वारा व्यवस्थाओं को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ ही बड़ी तादात में पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं दूसरी तरफ नगर निगम और विद्युत मंडल द्वारा भी आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं।