जब प्रधानमंत्री ने बुजुर्ग आदिवासी महिला को पहनाईं चप्पलें

Advertisements

रायपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को छत्तीसगढ़ में एक कार्यक्रम में एक वृद्ध महिला को अपने हाथों से चप्पलें पहनाईं और एक अन्य बुजुर्ग के कान में सुनने का यंत्र लगाया। मोदी ने छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के जांगला गांव में आयुष्मान भारत योजना के पहले चरण की शुरूआत की। उन्होंने इस मौके पर कहा कि यदि आज वह देश के प्रधानमंत्री हैं तो यह बाबा साहब की देन है। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि केंद्र सरकार ने बीते चार साल में जो भी योजनाएं बनाई है गरीबों, शोषित, पीड़ित, वंचित, पिछड़े, महिलाओं और आदिवासियों को ताकत देने के लिए बनाई है।

उन्होंने कहा कि विश्वास है कि बाबा साहेब की जयंती पर यहां केंद्र सरकार और राज्य सरकार की जिन योजनाओं की शुरूआत हुई है वह भी विकास का कीर्तिमान बनाने में कामयाब होगी। मोदी ने कहा कि बाबा साहब आंबेडकर बहुत ही पढ़े-लिखे थे उच्च शिक्षित थे। अगर वह चाहते तब दुनिया के समृध्द देशों में शानदार सुख चैन की जिंदगी बिता सकते थे। लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। विदेश की धरती पर पढ़ाई करके वह वापस आए। उन्होंने अपना जीवन पिछड़े समाज के लिए, वंचित समुदाय, दलित और आदिवासी समुदाय के लिए समर्पित किया।

इसे भी पढ़ें-  Captain Amrinder Singh Resignation News : पंजाब की सियासत में बड़ा धमाका, साेनिया गांधी ने कैप्‍टन अमरिंदर से मांगा इस्तीफा, जानें कौन हो सकता है 

PunjabKesari

Advertisements